हम पार्टियों से गठबंधन कर रहे हैं, और मोदी सरकार CBI और ED से – अखिलेश यादव

0
174

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की राजधानी कोलकाता (Kolkatta) में आज विपक्षी एकता की झलक देखने को मिली. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) की विपक्षी एकता रैली में करीब 20 पार्टियों के नेताओं का जमावड़ा दिखा और सबने एक मंच से मोदी सरकार पर हमला बोला. TMC की ब्रिगेड परेड ग्राउंड में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि हम पार्टियों से गठबंधन कर रहे हैं, मगर केंद्र की मोदी सरकार सीबीआई और ईडी जैसी एजेंसियों से गठबंधन कर रही है. उन्होंने आगे कहा कि आज अधिकारों को खतरा है. बंगाल मुझे आने का मौका कई बार मिला है. मगर आज जो मौका मिला है वह दूसरा है. जो बात बंगाल से चलेगी वह देश में दिखाई देगी. 12 तारीख को सपा-बसपा और हमारे सहयोगी दलों का गठबंधन हो गया. सब सोचते थे कि हमारा गठबंधन नहीं होगा. जब गठबंधन हुआ तो देश में खुशी की लहर दौड़ गई. 

अखिलेश यादव ने कहा कि नए साल में नया प्रधानमंत्री आ जाए तो कितनी खुशी होगी हमें. कभी कभी वे चिढ़ाने के लिए कहते हैं कि इनके पास दूल्हा ज्यादा है. मगर हम कहते हैं कि ठीक है हमारे पास दुल्हे अधिक हैं, मगर जनता जिसे चुनेगी वह ही प्रधानमंत्री बनेगा. इससे पहले भी ऐसी सरकारें बनी हैं. बीजेपी नाम ने देश को निराश कर दिया है. यह तो अभी कम दलों का गठबंधन है. अभी तो आगे होगा. हमने आपसे सीखा है. आपने गठबंधन की सरकार बनाई तो हमने भी एक खूबसूरत गुलदस्ता बनाने का काम किया है. आपकी 40 पार्टियों के साथ गठबंधन है. हमने गठबंधन का तरीका भाजपा से ही सीखा है. चुनाव आते-आते बीजेपी सीबीआई और ईडी से गठबंधन कर रही है और हम लोग जनता की आवाज से गठबंधन कर रहे हैं. हमारे सहयोगी दलों के मिलने के बाद उत्तर प्रदेश में भाजपा को डर लग रहा है. मगर हम जनता से गठबंधन कर रहे हैं. जबसे हम सपा-बसपा मिल गए, उस दिन से बीजेपी में रोज बैठकें हो रही हैं. अगर तमिलनाडु बीजेपी को जीरो दे सकता है तो हम और भी बड़ा झटका दे सकते हैं. 

अखिलेश यादव ने कहा कि हमने बहुत काम किया. बीजेपी वाले काम पर वोट नहीं मांगते. वह साजिश करते हैं. आप उनकी साजिशों में न फंसे और उन्हें हराने का काम करें. लोकतंत्र को बचाने के लिए इन बड़े नेताओं ने जो काम किया है, उसके लिए धन्यवाद. 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here