आखिर सच हो गया सपना, आ रहा है पहला मेड इन इंडिया नोट

0
243

भारतीय मुद्रा को सुरक्षित बनाने के लिए रिजर्व बैंक एक बार फिर नई तकनीक और फीचर वाले नोट जारी करने जा रहा है। इस बार 100 रुपये का नया नोट जारी होगा, जो पूरी तरह देसी कागज और स्याही के इस्तेमाल से बनाया जा रहा है। आरबीआई के आधिकारिक बयान में बताया गया कि जल्द ही 100 रुपये का नया नोट बाजार में आ जाएगा। इसका मुद्रण शुरू कर दिया गया है। महात्मा गांधी सीरीज के इन नए नोटों पर मौजूदा गवर्नर उर्जित पटेल के हस्ताक्षर होंगे। इसके मुद्रण में इस्तेमाल होने वाली स्याही भारतीय है और सभी सुरक्षा फीचर भी पूरी तरह स्वदेशी हैं।

दस के नोट से थोड़ा सा बड़ा
नया नोट आकार में पुराने 100 के नोट से छोटा और 10 के नोट से मामूली बड़ा होगा। इसका आकार 66 मिलीमीटर×142 मिलीमीटर है। इसके एक गड्डी का वजन करीब 83 ग्राम होगा।

गांधी जी का चित्र होगा सुरक्षा कोड
नए नोट में इस्तेमाल होने वाले सुरक्षा फीचर में सबसे खास आगे की ओर अंकित गांधी जी का चित्र होगा। इस फीचर को गुप्त रखा जाएगा लेकिन यह नोट के रंग से कंट्रास्ट में होगा। नोट का रंग हल्का जामुनी होगा। केंद्रीय बैंक से जुड़े सूत्रों का कहना है कि यही सबसे बड़ा सुरक्षा फीचर है। इसके अलावा करीब दो दर्जन सूक्ष्म सुरक्षा फीचर भी बढ़ाए गए हैं, जो पुराने नोट में नहीं हैं।

नोट पर अंकित है ‘रानी की बावड़ी’
नोट के पिछले हिस्से में यूनेस्को की सूची में शामिल गुजरात के पाटण स्थित ‘रानी की बावड़ी’ को अंकित किया गया है। पत्थरों पर महीन नक्काशी वाले इस सीढ़ीदार कुएं को भूमिगत जल के उपयोग और प्रबंधन की श्रेष्ठ तकनीक मानकर यूनेस्को ने वर्ष 2014 में इसे विश्व विरासत में शामिल किया।

चलते रहेंगे पुराने नोट
रिजर्व बैंक ने कहा है नए नोट के चलन में आने के बावजूद पुराने 100 रुपये के नोट भी चलते रहेंगे। जब नए डिजाइन में नोट जारी किए जाते हैं तो उसकी छपाई और आम लोगों तक आपूर्ति धीरे-धीरे होती है। लिहाजा इसके प्रसार में भी समय लगेगा, इसलिए पुराने नोट पहले की ही तरह वैध रहेंगे।

एटीएम में चौथी बार बदलाव
100 के नए नोट आने से एटीएम के कैश ट्रे में एक बार फिर बदलाव करना पड़ेगा। नवंबर 2016 के बाद यह चौथा मौका होगा, जब बैंकों को अपने एटीएम में बदलाव करना पड़ रहा है। इसके पहले 2000, 500 और 200 के नए नोटों के लिए बदलाव करने पड़े थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here