एडवाइजरी के बाद 6126 यात्रियों ने श्रीनगर छोड़ा।

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) ने जानकारी साझा करते हुए बताया कि 32 नियमित फ्लाइट्स से 5829 लोगों को कश्मीर से बाहर ले जाया गया है।

0
240

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में जारी एडवाइजरी के बाद श्रीनगर से 6126 यात्रियों ने बाहर के लिए यात्रा की है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) ने जानकारी साझा करते हुए बताया कि 32 नियमित फ्लाइट्स से 5829 लोगों को कश्मीर से बाहर ले जाया गया है। वहीं बचे हुए 387 यात्रियों को वायुसेना के चार विमानों से जम्मू, पठानकोट और हिंडन पहुंचाया गया है।

AAI ने बताया कि यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए श्रीनगर हवाई अड्डे पर सभी कर्मचारियों की संख्या बढ़ाई गई। सभी यात्री घाटी से व्यवस्थित तरीके से बाहर भेजे गए। श्रीनगर हवाईअड्डे पर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ ऑफ इंडिया ने वायुसेना, सीआरपीएफ, बीएसएफ, एयरलाइन्स और राज्य प्राधिकरणों के साथ सुचारू रूप से यह टास्क संचालित किया।

AAI ने बताया कि घाटी से यात्रा करने के लिए शनिवार को श्रीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कुल 6216 यात्रियों पहुंचे थे।

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों (Amarnath Pilgrims and Tourists) के लिए जारी एडवाइजरी के बाद से ही फ्लाइट टिकेट बुकिंग की संख्या बढ़ने लगी थी। ऐसे में नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने सभी एयरलाइन्स से किराए को नियमित रखने की हिदायत दी है।

शुक्रवार को श्रीनगर हवाई अड्डे के निदेशक ने हवाई अड्डा सुरक्षा समिति की आपात बैठक बुलाई थी। यह बैठक जम्मू-कश्मीर सरकार द्वारा जारी की गई सुरक्षा एडवाइजरी के बाद बुलाई गई है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के प्रवक्ता ने यह बात कही। जानकारी के अनुसार डीजीसीए ने तीन एयरलाइंस को स्टैंड बाय मोड में रहने को कहा था।

इस एडवाइजरी के मुताबिक आतंकी हमले की आशंका के चलते अमरनाथ यात्रियों से तत्काल घाटी छोड़ने को कहा गया है। 15 अगस्त तक चलने वाली अमरनाथ यात्रा को पहले ही चार अगस्त तक के लिए स्थगित किया जा चुका है। अमरनाथ यात्रियों तथा पर्यटकों को राज्य प्रशासन की ओर से एडवाइजरी जारी कर उन्हें जल्द से जल्द सुरक्षित स्थान पर जाने को कहा गया है।

वहीं, शुक्रवार को अमरनाथ यात्रा मार्ग पर स्नाइपर राइफल, पाक सेना आर्डिनेंस फैक्ट्री निर्मित लैंडमाइन मिला है। सेना ने दावा किया है कि आतंकियों के निशाने पर अमरनाथ यात्री थे। सेना और वायु सेना को अलर्ट पर कर दिया गया है। इस बीच अमरनाथ यात्रा मार्ग से टट्टू तथा लंगर वाले लौटने लगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here