Jammu Kashmir: औरंगजेब के बाद, शोपियां में कॉन्स्टेबल जावेद का मिला शव

0
200

कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक कॉन्स्टेबल जावेद अहमद डार की हत्या कर दी है। उनका शव शुक्रवार को गुलगाम के परिवान में मिला। जावेद को गुरुवार शाम को करीब 5 बजे अगवा किया गया था। एक महीने में यह दूसरा मामला है। इससे पहले 14 जून को आतंकवादियों ने भारतीय सेना के जवान औरंगजेब को कलमपोरा से अगवा कर हत्या कर दी थी।

सूत्रों के मुताबिक, जावेद अहमद को शोपियां के कचदूरा गांव की एक मेडिकल की दुकान से अगवा किया गया। वे पूर्व एसएसपी शैलेन्द्र मिश्रा की सुरक्षा में तैनात थे। ऐसी भी खबर है कि आतंकी एक कार से आए थे और जावेद को जबरन बैठाकर ले गए। कचदूरा में इस साल एक एनकाउंटर में पांच आतंकी मारे गए थे।

औरंगजेब ईद मनाने घर पहुंचे थे: आतंकवादियों ने 14 जून को सेना के जवान औरंगजेब को कलमपोरा से अगवा किया गया था। उसके बाद उनकी हत्या कर दी थी। वे अपने गांव ईद मनाने के लिए गए थे। औरंगजेब की हत्या करने के पहले आतंकवादियों ने उनका एक वीडियो भी बनाया था। इसमें आतंकवादियों ने उनसे कई सवाल पूछे थे। वे 44 राष्ट्रीय राइफल के साथ शोपियां के शादीमर्ग में तैनात थे। आतंकी पहले भी छुट्‌टी पर आने वाले जवानों को निशाना बना चुके हैं। मई 2017 में सेना के लेफ्टिनेंट उमर फयाज की आतंकियों ने अगवा करने के बाद हत्या कर दी थी। 22 साल के उमर अपने रिश्तेदार की शादी समारोह में शामिल होने शोपियां पहुंचे थे। 2017 में शोपियां के ही टेरिटोरियल आर्मी जवान इरफान अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उन्हें भी घर से ही अगवा किया गया था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here