Maha Politics: अजित पवार डिप्टी CM पद छोड़ने के बाद, शरद पवार से मिलने उनके घर पहुंचे

महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम (Deputy CM) का पद छोड़ने के बाद देर शाम NCP नेता अजित पवार (Ajit Pawar) अपने चाचा शरद पवार (Sharad Pawar) के घर उनसे मुलाकात के लिए पहुंचे.

0
322

महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम (Deputy CM) का पद छोड़ने के बाद देर शाम NCP नेता अजित पवार (Ajit Pawar) अपने चाचा शरद पवार (Sharad Pawar) के घर उनसे मुलाकात के लिए पहुंचे.

इससे पहले महाराष्ट्र (Maharashtra) में जारी सियासी नाटक के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) और डिप्टी सीएम अजित पवार (Ajit Pawar) ने इस्तीफा दे दिया था. दोनों नेताओं का इस्तीफा सुप्रीम कोर्ट के फ्लोर टेस्ट कराने के आदेश के बाद हुआ. पहले अजित पवार ने इस्तीफा दिया और उसके कुछ समय बाद देवेंद्र फडणवीस ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी घोषणा कर दी और बाद में राजभवन जाकर राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया. इसके बाद कांग्रेस-NCP-शिवसेना ने होटल ट्राइडेंट में बैठक की और उद्धव ठाकरे को अपना नेता चुना. उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) एक दिसंबर को शाम पांच बजे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे.

बता दें कि इससे पहले 23 नवंबर की सुबह BJP के देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेकर पूरे देश को चौंका दिया था. साथ में अजित पवार ने डिप्‍टी सीएम पद की शपथ ली थी. इसके बाद तीनों दल (कांग्रेस-NCP-शिवसेना) सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए थे. सोमवार को इस मामले में सुनवाई हुई और फैसला मंगलवार की सुबह 10:30 बजे तक के लिए सुरक्षित रख लिया गया. सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि कल शाम 5 बजे तक सदन में देवेंद्र फडणवीस बहुमत साबित करें. साथ ही यह भी निर्देष दिया कि बहुमत साबित करने के लिए गुप्‍त मतदान नहीं होंगे और इसका लाइव प्रसारण किया जाएगा.

इस फैसले के बाद कल सदन में बहुमत साबित करने की तैयारी शुरू हो गई. बीजेपी की ओर से कहा गया कि हम सदन में बहुमत साबित कर देंगे. एनसीपी की ओर से अजित पवार को लगातार मनाने की कोशिश होती रही. इसी बीच अजित पवार ने अपने पद से इस्‍तीफा देकर सबों को चौंका दिया. अजित पवार के इस्‍तीफे के बाद देवेंद्र फडणवीस की तरफ से प्रेस कॉन्‍फ्रेंस किए जाने की सूचना आई.

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को जनता ने जनादेश दिया था लेकिन शिवसेना कांग्रेस-एनसीपी के साथ बात करने लगी. यह कहा गया कि ढाई-ढाई साल के लिए सीएम पद की बात हुई थी जबकि ऐसा कुछ भी नहीं था. देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हमारे पास बहुमत नहीं है. और इसके साथ ही अपने इस्‍तीफे की घोषणा कर दी.

बता दें कि उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के एक दिन बाद यानी रविवार को अजित पवार और शरद पवार के बीच ‘ट्वीट वार’ भी देखने को मिला था. अजित पवार ने ट्वीट किया था, ‘मैं एनसीपी में हूं और हमेशा NCP में ही रहूंगा और शरद पवार साहेब हमारे नेता हैं. हमारा BJP-NCP गठबंधन अगले पांच वर्षों के लिए महाराष्ट्र में एक स्थिर सरकार प्रदान करेगा जो राज्य और इसके लोगों के कल्याण के लिए ईमानदारी से काम करेगी. इसके बाद शरद पवार ने ट्वीट किया था, ‘बीजेपी के साथ जाने का सवाल ही नहीं है. NCP ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया है कि वह शिवसेना-कांग्रेस (Shiv Sena-Congress) के साथ सरकार बनाने के लिए गठबंधन करेगी. अजित पवार का बयान झूठा और गुमराह करने वाला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here