अकाली दल विधायक सिरसा और डीएसजीएमसी सदस्यों ने औरंगजेब लेन के नामपट्ट पर कालिख पोती।

अकाली दल विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि औरंगजेब एक ‘हत्यारा' था जिसने गुरु तेग बहादुर की हत्या की और गुरु गोविंद सिंह के पुत्रों को प्रताड़ित किया.

0
260

Delhi: शिरोमणि अकाली दल (SAD) विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा (Manjinder Singh Sirsa) ने रविवार को दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (DSGMC) सदस्यों के साथ लुटियन दिल्ली स्थित औरंगजेब लेन (Aurangzeb Lane) के नामपट्ट पर कालिख पोत दी और नामपट्टों व पाठ्यपुस्तकों से मुगल शासक का नाम हटाने की मांग की.

अकाली दल (SAD) विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा (Manjinder Singh Sirsa) ने कहा कि औरंगजेब एक ‘हत्यारा’ था जिसने गुरु तेग बहादुर की हत्या की और गुरु गोविंद सिंह के पुत्रों को प्रताड़ित किया. सिरसा ने अपने कृत्य को उचित ठहराते हुए कहा, ‘गुरु तेग बहादुर के शहीदी दिवस के दिन लोगों को औरंगजेब के खूनी अतीत की याद दिलाने की जरूरत है.’

डीएसजीएमसी अध्यक्ष (DSGMC President) ने कहा कि केंद्र सरकार और राज्यों को सुनिश्चित करना चाहिए कि किसी भी सड़क का नाम औरंगजेब के नाम पर नहीं हो और उसके बारे में स्कूल और कालेजों में नहीं पढ़ाया जाए. उन्होंने कहा, ‘यह चौंकाने वाली बात है कि सिख गुरुओं पर अत्याचारों के बावजूद औरंगजेब का महिमामंडन किया गया. इस पर संसद में चर्चा होनी चाहिए कि इसके लिए कौन जिम्मेदार है.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here