सपा भी अकेले सभी 11 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी।

अखिलेश यादव ने कहा कि अगर गठबंधन टूट गया है और अगर उपचुनाव में गठबंधन नहीं होता है, तो समाजवादी पार्टी चुनाव की तैयारी करेगी।

0
166

पिछले दिनों से SP-BSP गठबंधन टूटने की चल रही अटकलें अब साफ हो गई हैं। SP मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने गठबंधन से अलग होकर चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं। इससे पहले बसपा सुप्रमो मायावती (Mayawati) ने भी सपा से अलग उपचुनाव लड़ने की बता कही थी।

SP मुखिया और आजमगढ़ से सांसद अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि 2022 में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी। साथ ही उन्होंने यूपी में होने वाले उपचुनावों में भी अकेले लड़ने के संकेत दिए हैं।

गठबंधन पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि अगर गठबंधन टूट गया है, तो मैं इस पर गहराई से विचार करूंगा और अगर उपचुनाव में गठबंधन नहीं होता है, तो समाजवादी पार्टी चुनाव की तैयारी करेगी। सपा भी अकेले सभी 11 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी।

इससे पहले मायावती (Mayawati) ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा कि जब से सपा-बसपा गठबंधन हुआ, सपा प्रमुख अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव ने मुझे बहुत सम्मान दिया। मैं राष्ट्र के हित में अपने सभी मतभेदों को भी भूल गई और उनका सम्मान किया। हमारा संबंध केवल राजनीति के लिए नहीं है, यह हमेशा के लिए जारी रहेगा।

सपा-बसपा गठबंधन पर बसपा प्रमुख मायावती (Mayawati) ने कहा कि हालांकि, हम राजनीतिक मजबूरियों को नजरअंदाज नहीं कर सकते। यूपी में लोकसभा चुनाव के नतीजों में ‘यादव’ समुदाय के आधार समाजवादी पार्टी ने पार्टी का समर्थन नहीं किया। यहां तक कि सपा के मजबूत दावेदार भी हार गए। इसलिए हमने अकेले उपचुनाव लड़ने का फैसला किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here