अलवर लिंचिंग: प्रत्यक्षदर्शी ने बताया, ‘हमलावर बोल रहे थे, विधायक हमारे साथ…कुछ नहीं बिगड़ेगा’

0
286

‘विधायक हमारे साथ हैं…कोई हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकता…उसे आग पर रखो।’ राजस्थान के अलवर में अकबर खान की पीट-पीटकर हत्या करनेवाले गोरक्षक लगातार यही बोले जा रहे थे। घटना के प्रत्यक्षदर्शी और अकबर के दोस्त असलम ने पुलिस को दिए बयान में ये जानकारी दी है।

बता दें कि स्थानीय विधायक ज्ञान आहूजा सत्तारूढ़ बीजेपी से हैं। ज्ञान वह पहले शख्स भी थे जिन्होंने गोरक्षकों का बचाव किया था। हालांकि विधायक ने इस दावे को खारिज किया है और उन्होंने इसके पीछे भ्रष्ट पुलिसवालों की मिलीभगत बताया है। रविवार को पुलिस ने असलम का बयान दर्ज किया। इस दौरान असलम ने पांच आरोपियों के नाम लिए, जिनमें से पुलिस तीन को गिरफ्तार कर चुकी है।

मैं जान बचाकर भागा’
प्रत्यक्षदर्शी असलम ने पुलिस को दिए बयान में बताया है कि वह और अकबर अपनी दो गायों को लेकर जा रहे थे, तभी तेज बाइक देखकर दोनों गाय खेतों में चली गईं, जहां 6-7 लोग मौजूद थे। खेत में मौजूद लोग गाय देखकर हम पर भड़क गए। मैं अपनी जान बचाने के लिए मौके से भाग निकला।

‘हम कुछ भी कर सकते हैं…’
असलम के मुताबिक गोरक्षक अकबर को नीचे जमीन पर गिराकर उस पर डंडों से वार कर रहे थे। इस दौरान असलम ने सुना कि वे किसी विधायक के समर्थन की बात कर रहे हैं। असलम ने बताया, ‘वे कह रहे थे कि विधायक हमारे साथ हैं। कोई हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकता। हम कुछ भी कर सकते हैं।’

मामले में आया नया मोड़
असलम के इस बयान के बाद अब मामले में एक नया मोड़ आ गया है। दरअसल, स्थानीय विधायक ज्ञान आहूजा ने आरोप लगाया था कि गोरक्षकों ने अकबर को नहीं मारा है बल्कि कस्टडी में पुलिस की ज्यादती से उसकी जान गई है।

मेवाती समाज ने विधायक को घेरा
उधर, अखिल भारतीय मेवाती समाज ने भी स्थानीय विधायक पर हमला बोला है। संगठन प्रमुख रमजान चौधरी ने कहा है, इसमें कोई संदेह नहीं है कि हमलावर स्थानीय विधायक के बारे में बात कर रहे थे। विधायक ने खुद अपने बयान में कहा था कि वे (गोरक्षक) उनके आदमी हैं और उन्होंने उनसे कहा था कि वे अकबर की थोड़ी पिटाई करके पुलिस के हवाले कर दें।

विधायक बोले- मेरे खिलाफ साजिश
उधर, विधायक ने इन आरोपों को बेबुनियाद और अपने खिलाफ साजिश करार दिया है। विधायक ज्ञान आहूजा ने कहा, ‘अलवर में लिंचिंग के मामले बढ़े हैं। मिलावटी दूध की बिक्री बढ़ी है। मेरे अधिकार क्षेत्र में आनेवाले थानों में रामगढ़ में क्राइम सबसे अधिक है। मैं उनके इन भ्रष्ट कदम को रोकने की कोशिश कर रहा हूं तो वे असलम पर गलत बयान देने के लिए दबाव डाल रहे हैं। इसमें कोई सच्चाई नहीं है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here