रिलायंस रिटेल में खरीदेगी अमेरिकी कंपनी KKR 1.28% हिस्सेदारी, 5550 करोड़ में हुई डील

अमेरिकी कंपनी KKR ने रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) में हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा की है। KKR 1.28% हिस्सेदारी 5550 करोड़ रुपये में खरीदेगी।

0
1397

जियो प्लेटफॉर्म्स (JIO Platforms) में निवेश जुटाने के बाद अब मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) अपनी रिटेल कंपनी के लिए फंड जुटाने में लगे हैं। मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस रिटेल को अपना दूसरा निवेशक मिल गया है। दुनिया की दिग्गज टेक इन्वेस्टर कंपनी सिल्वर लेक (Silver Lake) के बाद अब अमेरिकी कंपनी KKR ने रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) में हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा की है। KKR 1.28% हिस्सेदारी 5550 करोड़ रुपये में खरीदेगी।

KKR ने Reliance Retail में 4.21 लाख करोड़ रुपये के वैल्युएशन पर निवेश किया है। मालूम हो कि साल की शुरुआत में केकेआर ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 11,367 करोड़ का निवेश किया था। यह KKR का Reliance Industries की एक सहायक कंपनी में दूसरा निवेश है।

रिलायंस रिटेल लिमिटेड (Reliance Retail Ltd) के देश भर मे फैले 12,000 से ज्यादा स्टोर्स में सालाना करीब 64 करोड़ ग्राहक आते हैं। यह भारत का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से विकसित होने वाला रिटेल बिजनेस है। रिलायंस रिटेल के पास देश के सबसे लाभदायक रिटेल बिजनेस तमगा भी है। कंपनी खुदरा वैश्विक और घरेलू कंपनियों, छोटे उद्योगों, खुदरा व्यापारियों और किसानों का एक ऐसा तंत्र विकसित करना चाहती है, जिससे उपभोक्ताओं को किफायती मूल्य पर सेवा प्रदान की जा सके और लाखों रोजगार पैदा किए जा सकें।

Reliance Retail ने अपनी नई वाणिज्य रणनीति के तहत छोटे और असंगठित व्यापारियों का डिजिटलीकरण शुरू किया है। कंपनी का लक्ष्य दो करोड़ व्यापारियों को इस नेटवर्क से जोड़ना है। यह नेटवर्क व्यापारियों को बेहतर टेक्नोलॉजी के साथ ग्राहकों को बेहतर मूल्य पर सेवाएं देने में सक्षम बनाएगा।

इस संदर्भ में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा कि, ‘रिलायंस रिटेल वेंचर्स में एक निवेशक के रूप में KKR का स्वागत करते हुए मुझे खुशी हो रही है क्योंकि हम सभी भारतीयों के लाभ के लिए भारतीय रिटेल इकोसिस्टम को विकसित करने और बदलने के लिए लगातार आगे बढ़ रहे है। हम अपने डिजिटल सेवाओं और रिटेल बिजनेस में KKR के ग्लोबल प्लेटफॉर्म, इंडस्ट्री नॉलेज और ऑपरेशनल एक्सपर्टिस का लाभ लेने को तैयार हैं।’

वहीं KKR के सह-संस्थापक हेनरी क्राविस ने कहा कि, ‘हम रिलायंस रिटेल वेंचर्स में इस निवेश के माध्यम से रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ अपने संबंधों को और मजबूत कर रहे हैं। रिलायंस रिटेल सभी व्यापारियों को सशक्त बनाने और भारतीय उपभोक्ताओं के रिटेल खरीदारी के अनुभव को बदल रहा है। हम भारत के अग्रणी रिटेलर बनने और एक और समावेशी भारतीय रिटेल इकोनॉमी बनाने के रिलायंस रिटेल के मिशन का पूर्ण समर्थन करते हैं।’

इससे पहले अमेरिका की निजी इक्विटी कंपनी सिल्वर लेक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) में 7,500 करोड़ रुपये का निवेश करने का एलान किया था। कंपनी रिलायंस में 1.75 फीसदी हिस्सेदारी खरीदेगी। सिल्वर लेक (Silver Lake) ने रिलायंस की टेक कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स में भी 10,200 करोड़ रुपये का निवेश किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here