30 मई को अमित शाह को मिल सकता है कोई शीर्ष विभाग।

संगठन के स्तर पर पांच साल में भाजपा को ऐतिहासिक ऊंचाई देने वाले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) अब नरेंद्र मोदी (PM Modi) सरकार में दिख सकते हैं।

0
271

संगठन के स्तर पर पांच साल में भाजपा को ऐतिहासिक ऊंचाई देने वाले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) अब नरेंद्र मोदी (PM Modi) सरकार में दिख सकते हैं। जाहिर तौर पर सरकार में उनका स्थान मंत्रिमंडल की सुरक्षा समिति में शामिल चार शीर्ष मंत्रियों में होगा। वहीं संगठन में उनकी जगह वर्तमान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा (JP Nadda) आ सकते हैं।

यूं तो शाह के सरकार में आने की अटकलें तभी से लगने लगी थी जब उन्होंने राज्यसभा छोड़कर लोकसभा आने का मन बनाया था, खुद शाह ऐसी अटकलों को दरकिनार करते रहे हैं। लेकिन सूत्रों की मानी जाए तो 30 मई को राष्ट्रपति भवन में होने वाले शपथ ग्रहण में उनका भी नाम होगा।

विभाग के बारे में सूत्र अनभिज्ञ हैं, लेकिन यह तय है कि शीर्ष के चार मंत्रियों में उनका नाम होगा। ये चार शीर्ष विभाग- गृह, वित्त, रक्षा और विदेश मंत्रालय होते हैं। ये चार मंत्री ही प्रधानमंत्री के साथ सुरक्षा मामलों की समिति के भी सदस्य होते हैं।

हालांकि अध्यक्ष के रूप में शाह के पास तीन साल के एक और कार्यकाल का वक्त है, लेकिन बताते हैं कि प्रधानमंत्री सरकार में भी उनका उपयोग करना चाहते हैं। अगर ऐसा होता है तो अध्यक्ष पद के लिए नए चेहरे की तलाश होगी। वैसे सबसे मुफीद नड्डा ही माने जा रहे हैं।

गौरतलब है कि 2014 में भी राजनाथ सिंह के गृहमंत्री बनने के बाद स्थान रिक्त हुआ था तो नड्डा के नाम पर भी विचार शुरू हुआ था, लेकिन तब संघ की प्राथमिकता में भी शाह थे। इसे एक संयोग भी कहा जा सकता है कि अध्यक्ष पद की कमान संभालने से पहले शाह भी उत्तर प्रदेश के प्रभारी थे और बड़ी जीत दिलाई थी।

इस चुनाव में नड्डा को भी उत्तर प्रदेश का प्रभार था और जीत इस बार भी बड़ी है। वैसे नड्डा सबकी पसंद माने जाते हैं। खुद शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भी विश्वस्त हैं। यही कारण है कि मंत्री पद पर रहते हुए वह शाह की टीम में भी थे। भाजपा संविधान के मुताबिक संसदीय बोर्ड का सचिव पद किसी महासचिव के पास होता है, लेकिन नड्डा संगठन का हिस्सा न रहते हुए भी लगातार इस पद पर बने रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here