रोहित शेखर हत्या मामले में गिरफ्तार हुई पत्नी अपूर्वा

रोहित शेखर की रहस्यमयी मौत के मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार कर लिया है।

0
508

यूपी और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर (Rohit Shekhar Tiwari) की रहस्यमयी मौत की गुत्थी को दिल्ली पुलिस ने सुलझा लिया है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा (Apoorva Tiwari) को गिरफ्तार कर लिया है।

आपको बतादें कि पूछताछ में पत्नी अपूर्वा ने रोहित के कमरे में जाने की बात स्वीकार की थी, लेकिन वह उसे मारने की बात से इंकार कर रही थी। उसका कहना है कि उस रात वह कुछ देर के लिए रोहित के साथ थी, लेकिन फिर अपने कमरे में आ गई थी। इसके बाद क्या हुआ? उसके कमरे में कौन गया और उसकी मौत कैसे हुई? यह उसे नहीं पता।

क्राइम ब्रांच की तफ्तीश में यह साफ है कि घटना वाली रात घर में पत्नी अपूर्वा, नौकर गोलू, ड्राइवर अखिलेश, भाई सिद्दार्थ, गोलू की पत्नी व उसके तीन बच्चे और घर के पिछले हिस्से में रहने वाली नौकरानी डिम्पी मौजूद थे। मौके की सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि भाई सिद्धार्थ और डिम्पी उस रात रोहित के फ्लोर पर नहीं गए थे। वहीं, गोलू की पत्नी भी अपने बच्चों के साथ रात को दूसरी मंजिल पर गई थी, जो अगले दिन सुबह ही नीचे आई। इस कारण क्राइम ब्रांच सिद्धार्थ, डिम्पी और गोलू की पत्नी क्राइम ब्रांच की जांच के दायरे से बाहर हैं।

शक की सुई रोहित की पत्नी अपूर्वा, नौकर गोलू और ड्राइवर अखिलेश के आसपास ही घूम रही है। दरअसल, सीसीटीवी फुटेज में तीनों पहली मंजिल पर जाते हुए दिखाई दिए हैं। इसी मंजिल पर रोहित का कमरा है। इस वजह से तीनों जांच के दायरे में हैं। तीनों ही ने पहली मंजिल पर जाने की बात भी स्वीकार की है।

क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी राजीव रंजन ने बताया कि अब तक की तफ्तीश में यह साफ हो गया कि हत्या प्लानिंग के तहत नहीं की गई है। इसमें किसी बाहरी शख्स का भी हाथ नहीं है। इसमें जो भी हुआ है, अचानक ही किसी बात को लेकर हुआ। पुलिस उस तत्काल कारण को तलाशने में जुटी है, जिसके कारण यह हत्या की गई।

क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी राजीव रंजन ने कहा कि संभवत: दो दिनों के भीतर जांच पूरी हो जाएगी। हमने काफी हद तक कड़ियों को जोड़ लिया है। अब हम वैज्ञानिक और फॉरेसिंक जांच के आधार पर साक्ष्यों को पुख्ता कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साफ हो चुका है कि रोहित की मुंह, नाक व गला दबाकर हत्या की गई है। लेकिन इस वारदात को अंजाम देने में सिर्फ एक आरोपी शामिल है या फिर और भी लोग शामिल हैं, इसकी जांच की जा रही है।

क्राइम ब्रांच के मुताबिक, हत्या वाली रात के अगले दिन (16 अप्रैल) शाम करीब चार बजे अपूर्वा ने नौकर गोलू को रोहित को देखने के लिए उसके कमरे में भेजा, तब पता चला कि रोहित के मुंह से खून निकल रहा है। इसके बाद घर के लोग उसके कमरे में गए और फिर उसे आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उधर, जांच टीम ने जब मोबाइल की कॉल डिटेल रिकार्ड खंगाली तो यह भी पता चला है कि अपूर्वा के फोन से मंगलवार सुबह किसी को फोन किया गया है।

जांच में खुलासा हुआ है कि रोहित शेखर और उसकी पत्नी अपूर्वा अलग-अलग कमरों में सोते थे। रोहित के कमरे में सिंगल बेड था। हालांकि, पहली मंजिल पर ही अपूर्वा का भी कमरा है, लेकिन दोनों एक साथ नहीं रहते थे। क्राइम ब्रांच के मुताबिक, रोहित के किसी महिला के संपर्क में रहने बात सामने आई थी, जबकि अपूर्वा का भी पहले से दोस्त होने की बात का खुलासा रोहित की मां उज्जवला ने किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here