अरुण जेटली की हालत नाजुक, वेंटिलेटर से हटाकर ECMO पर रखा गया।

एक सप्ताह से AIIMS में भर्ती पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। वे ICU में भर्ती हैं।

0
377

एक सप्ताह से AIIMS में भर्ती पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। वे ICU में भर्ती हैं। उनकी हालत इस वक्त इतनी खराब है कि उन्हें वेंटिलेटर से हटाकर ECMO यानी एक्सट्राकॉर्पोरियल मेंब्रेन ऑक्सीजिनेशन (Extracorporeal membrane oxygenation) पर रखा गया है।

गृहमंत्री अमित शाह आज दोबारा जेटली का हाल जानने AIIMS गए। साथ ही शाम करीब चार बजे जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक भी पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) से मिलने पहुंचे

गौरतलब है कि ECMO पर मरीज को तभी रखा जाता है जब दिल, फेफड़े ठीक से काम नहीं करते और वेंटीलेटर का भी फायदा नहीं होता। इससे मरीज के शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाया जाता है। मालूम हो कि उन्हें संक्रमण ने चपेट में ले लिया है।

शुक्रवार को उनकी तबीयत में अचानक गिरावट दिखी। उनका उपचार कर रहे AIIMS के वरिष्ठ डॉक्टरों ने आनन-फानन में दवाओं की डोज बढ़ाने का फैसला लिया। उधर, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने और उनके परिजनों से मिलने के लिए AIIMS पहुंचे। उनके साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे भी थे।

जानकारी के अनुसार, पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) को 9 अगस्त को सांस लेने में तकलीफ के कारण AIIMS में भर्ती कराया गया था। परिजनों के अनुसार, सुबह नाश्ते के वक्त अरुण जेटली को अचानक सांस लेने में तकलीफ हुई थी।

AIIMS के डॉक्टरों ने भी शुरू में इसे रुटीन प्रक्रिया बताया, लेकिन दोपहर बाद जांच रिपोर्ट आने पर पता चला कि उन्हें फेफड़े में पानी भरने के कारण सांस लेने और छोड़ने में तकलीफ है। इसकी वजह से उनके दिल पर भी काफी दवाब पड़ रहा है।

डॉक्टरों ने आनन-फानन में उन्हें भर्ती करने का फैसला लिया। तब से AIIMS के पल्मोनरी, हार्ट, नेफ्रोलॉजी, एंडोक्रोनोलॉजी इत्यादि पांच विभागों के वरिष्ठ डॉक्टरों की टीम की निगरानी में उनका उपचार जारी है।

AIIMS के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया कि भर्ती होने के कुछ समय बाद पूर्व वित्त मंत्री के स्वास्थ्य में स्थिरता देखने को मिली थी। संक्रमण होने के कारण दो दिन से उनकी तबीयत में थोड़ी गिरावट देखने को मिली है। उन्होंने बताया कि पूर्व वित्त मंत्री के स्वास्थ्य की निगरानी के लिए AIIMS की टीम 24 घंटे अलर्ट पर है। उन्हें जल्द से जल्द स्वस्थ करने की हर संभव कोशिश की जा रही है।

डॉक्टरों ने अरुण जेटली (Arun Jaitley) के स्वास्थ्य को लेकर सोशल मीडिया पर पिछले कई दिन से चल रही खबरों को अफवाह बताते हुए अपील की है कि किसी भी प्रकार की भ्रामक जानकारी पर प्रतिक्रिया न दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here