लखनऊ वासियों ने हमारी जान बचाई – कश्मीरी ट्रेडर

आम लोगों ने हमें बचाया हमें अच्छा लगा. उन्होंने कहा कि जो भी यहां है चाहे गुजरात का है, कश्मीर का है, ये पूछना पुलिस का काम है. उन्होंने हमलावरों को समझाया कि तुमलोगों का क्या काम है. ये काम पुलिस का है.

0
144

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में भीड़ भाड़ वाले सड़क पर ड्राई फ्रूट्स बेच रहे कश्मीर (Kashmiri Traders) के दो विक्रेताओं पर बुधवार को एक राइट-विंग संगठन से जुड़ें लोगों ने हमला कर दिया और उन्हें थप्पड़ और लाठी से पीटा. इतना ही नहीं, राइट विंग संगठन से जुड़े हमलावरों ने दोंने कश्मीरी के साथ मारपीट का वीडियो भी साझा किया. हालांकि, स्थानीय लोगों की मदद की वजह से दोनों कश्मीरी युवक को हमलावरों को चंगुल से बचाया गया.

भगवाधारी गुंडों ने जिन दो कश्मीरियों को पीटा है उनमें से एक का नाम अफजल नाइक (Afzal Naik) है और दूसरे का अब्दुल सलाम (Abdul Salaam) . अफजल नाइक ने बताया कि भगवाधारी गुंडे उनके पास आए और उनसे आधार कार्ड मांगा फिर आतंकवादी और पत्थरबाज कह कर पीटने लगे.

उन्होंने कहा कि तुम आतंकवादी हो, यहां सामान बेचते हो, वहां तुम पत्थर फेंकते हो. इतना बोलकर वे मारपीट करने लगे. उन्होंने हमसे आधार कार्ड मांगा. हमने आधार कार्ड दिखाया. फिर उन्होंने कहा कि ये डुप्लीकेट है. हमने बताया कि हमारे पास ओरिजनल भी है. मगर वे सुने नहीं और मारने लगे. हालांकि, राहगीरों ने मुझे बचा लिया.

आम लोगों ने हमें बचाया हमें अच्छा लगा. उन्होंने कहा कि जो भी यहां है चाहे गुजरात का है, कश्मीर का है, ये पूछना पुलिस का काम है. उन्होंने हमलावरों को समझाया कि तुमलोगों का क्या काम है. ये काम पुलिस का है.

उन लोगों ने धमकी दी कि कल से इस शहर में तुमलोग नहीं दिखने चाहिए. अगर कल से लखनऊ में दिखोगे तो हम मार देंगे. कल दिन में यहां नहीं रहना है. आज भर रह लो. कल से किसी भी तरह शहर में नहीं दिखने चाहिए.

अफ़ज़ल और अब्दुल ने कहा कि अभी हमारे पास माल है. अभी 8-10 दिन लगेगा बेचने में. हमारा उधार भी है, मेरा कुछ पैसा भी बाकी है. हमारा पैसा हिंदू भाई और मुसलमान भाई के पास कुछ बकाया है. वो सब समेटना है. तब जाएंगे.

जब उनसे पुलिस कार्रवाई के बारे में पुछा तो उन्होंने कहा की उन्हें पुलिस की कार्रवाई अच्छी लगी. उन लोगों ने बताया कि आप वहां दूकना लगाइए. हम तुम्हारी हिफाजत करेंगे. वो लोग कुछ नहीं करेंगे. हम कार्रवाई करेंगे.

दरअसल, यह घटना बुधवार शाम 5 बजे हुई. ड्राई फ्रूट्स विक्रेताओं के साथ मारपीट करने वाले लोगों को मोबाइल से कैद किए गये वीडियो में यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वे ऐसा इसलिए कर रहे हैं क्योंकि वे कश्मीर से हैं. सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें साफ देखा जा सकता है कि कैसे दो हमलावर भगवा कपड़ा पहने हए हैं और वे कश्मीर विक्रेता को थपड़ और डंडे से मार रहे हैं. हालांकि, वहीं कुछ लोग बीच बचाव करने भी आ जाते हैं. अफजल नाइक और अब्दुल सलाम दोनों कुलगाम के रहने वाले हैं.

इस बाबत एसएसपी कलानिधि नैथानी ने कहा कि वीडियो में जो शख्स पिटाई करता दिख रहा है, उसे हमने गिरफ्तार कर लिया है. दोषी का नाम बजरंग सोनकर है. सोनकर आपराधिक बैकग्राउंड का है और उसके ऊपर मर्डर समेत कई धाराओं में 12 मुकदमें दर्ज हैं. बता दें कि इस हमले पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने भी कई ट्वीट कर इसकी निंदा की है और मोदी सरकार से सुरक्षा सुनिश्चित करने की अपील की है.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here