असम में कोई बांग्लादेशी नहीं, ये भारत का आंतरिक मामला- बांग्लादेश

0
167

NRC मामले में असम 40 लाख लोगों का नाम नहीं होने के बाद देश में बवाल खड़ा हो गया है। ऐसा माना जा रहा है कि ये लोग बांग्लादेशी हो सकते हैं। इसी बीच मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बांग्लादेश की तरफ से बयान आया है कि जिन लोगों का नाम NRC में नहीं है वो बांग्लादेशी नहीं हैं।

बांग्लादेश के सूचना मंत्री एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा है कि असम में कोई भी बांग्लादेशी नागरिक नहीं है। जो भी लोग पेरशानी पैदा कर रहे हैं वो भारतीय हैं। अवैध नागरिकों का मसला भारत का आंतरिक मसला है इससे बांग्लादेश का कोई लेना देना नहीं है।

आपको बता दें कि असम में कड़ी सुरक्षा के बीच सरकार ने असम के राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर NRC के दूसरे एवं अंतिम मसौदा को जारी किया है, ताकि अवैध तौर पर वहां पर रह रहे लोगों का पता लगाया जा सके। इसे कड़ी सुरक्षा के बीच जारी किया गया है। हालांकि, सरकार ने यह साफ कर दिया है कि अभी लोगों को इसमें अपना नाम शामिल कराने के लिए पर्याप्त मौका दिया जाएगा और फिलहाल किसी को नहीं निकाल जाएगा।

रजिस्ट्रार जनरल ऑफ इंडिया ने सोमवार को बताया कि 2 करोड़ 89 लाख 83 हजार छह सौ सात लोगों को राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर में योग्य पाकर उन्हें शामिल किया गया है और 40.07 लाख आवेदकों को इसमें जगह नहीं मिली है। करीब 3 करोड़ 29 लाख लोगों ने इस सूची के लिए एप्लाई किया था। जिन लोगों का नाम इस सूची में शामिल नहीं है उन्हें पर्याप्त मौका दिए जाएगा ताकि वह अपने दावे और विरोध दर्ज करा सकें।

निरंजन कुमार

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here