भीमा कोरेगांव: मोदी की हत्या की साजिश से भी जुड़े तार, सुरक्षा अधिकारियों ने कहा- नक्सलियों से मिले पत्रों से हुआ था खुलासा

0
173

भीमा-कोरेगांव में हुई हिंसा मामले में हुई ताजा कार्रवाई को पीएम नरेंद्र मोदी और अन्य बड़े बीजेपी नेताओं की हत्या की साजिश से जोड़कर भी देखा जा रहा है। सुरक्षा अधिकारियों का कहना है कि नक्सली नेताओं के बीच जिन दो पत्रों का आदान-प्रदान हुआ था, उनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गृह मंत्री राजनाथ सिंह की हत्या की योजना से जुड़ा ब्योरा था। कई राज्यों में वामपंथी विचारकों के घरों पर छापेमारी और कट्टर नक्सलियों से संबंध होने के आरोप में इनमें पांच की गिरफ्तारी उसी जांच की दिशा में कदम है।

इनमें से एक पत्र 2016 का है, जिसमें मोदी, शाह और राजनाथ की हत्या की साजिश को लेकर योजना का जिक्र है। जबकि 2017 के पत्र में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जैसे हत्याकांड को अंजाम देने का उल्लेख है। सुरक्षा अधिकारियों के मुताबिक, दूसरे पत्र में कामरेड प्रकाश को संबोधित किया गया है और यह पत्र दिल्ली से 6 जून को गिरफ्तार रोना विल्सन के घर से बरामद किया गया था।

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में अप्रैल में 39 नक्सलियों के मारे जाने के बाद चले अभियान के दौरान इन पत्रों का खुलासा हुआ था। अधिकारियों के अनुसार, दूसरे पत्र में योजना को अंजाम देने के लिए अमेरिकी एम-4 रायफल्स और अन्य हथियार जुटाने का उल्लेख है। इसमें कार्यकर्ताओं से ऐसे हथियार खरीदने के लिए करोड़ों रुपये जुटाने को कहा गया है। इन पत्रों में कहा गया था कि बीजेपी की केंद्र के अलावा 15 राज्यों में सरकार बन चुकी है और उसका प्रसार माओवादी विचारधारा के लिए खतरा है। जांच एजेंसियां इन पत्रों के खुलासे के बाद से ही लगातार जांच कर रही हैं।

निरंजन कुमार

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here