प. बंगाल में सियासी टकराव के बीच EC से मिला बीजेपी प्रतिनिधिमंडल, अर्धसैनिक बल की तैनाती की मांग

तृणमूल और बीजेपी की जंग चुनाव आयोग की चौखट तक पहुंच गई. बंगाल बीजेपी प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को चुनाव आयोग (Election Commission) से मुलाकात की.

0
738

पश्चिम बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) के काफिले पर हमले के बाद भाजपा (BJP) और सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) के बीच घमासान तेज हो गया है. तृणमूल और बीजेपी की जंग चुनाव आयोग की चौखट तक पहुंच गई. बंगाल बीजेपी प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को चुनाव आयोग (Election Commission) से मुलाकात की. भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग को 2 पेज का ज्ञापन भी सौंपा है. ज्ञापन में जेपी नड्डा पर हुए हमले का जिक्र किया गया है.

ज्ञापन में कहा गया कि पुलिस निष्पक्ष नहीं है. पुलिस (Bengal Police) TMC के कार्यकर्ता की तरह काम कर रही है. राज्य में अभी से अर्धसैनिक बल की नियुक्ति की जाए. अपने ज्ञापन में बीजेपी ने यह भी कहा है कि राज्य के जो सरकारी कर्मचारी हैं, वो मीटिंग करके यह कह रहे हैं कि वह TMC को सपोर्ट करेंगे. ऐसे में यह अधिकारी जैसे निष्पक्ष चुनाव करवा पाएंगे. चुनाव आयोग इस पर संज्ञान ले.

बता दें कि जेपी नड्डा की बंगाल यात्रा के दौरान 10 दिसंबर को 24 परगना में उनके काफिले पर ईंट-पत्थर से हमला किया गया था. नड्डा ने इसके लिए तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया था और गृहमंत्री अमित शाह ने भी कहा था कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को इसके लिए जवाब देना होगा.

जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले का शिकार बने बीजेपी के महासचिव और बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. विजयवर्गीय को अब बुलेटप्रूफ गाड़ी दी गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here