बीजेपी पर कांग्रेस का पलटवार, ‘क्या महादेव के दर्शन के लिए लेनी पड़ेगी मोदी से अनुमति?

0
92

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की कैलास मानसरोवर यात्रा को लेकर अब राजनीतिक विवाद तेज हो गया है। बीजेपी ने चीन के रास्ते कैलास मानसरोवर जा रहे कांग्रेस अध्यक्ष को जहां ‘चाइनीज गांधी’ कहा है, तो कांग्रेस की तरफ से भी पलटवार सामने आया है। कांग्रेस ने राहुल गांधी को शिवभक्त बताते हुए सवाल किया है कि क्या अब महादेव के दर्शन के लिए भी नरेंद्र मोदी से अनुमति लेनी पड़ेगी? सुरजेवाला ने कहा कि भोले शंकर और उनके भक्तों के बीच जो भी आता है वह पाप और श्राप का भागी बनता है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को कैलास मानसरोवर की यात्रा पर निकल रहे हैं। इस बीच बीजेपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राहुल गांधी पर हमला बोला। राहुल के कैलास मानसरोवर यात्रा चीन के रास्ते करने पर सवाल उठाते हुए बीजेपी ने कहा आखिर उन्हें चीन से इतना प्यार क्यों है। यहीं नहीं बीजेपी ने राहुल को ‘चाइनीज’ गांधी तक बता डाला। इसपर कांग्रेस की तरफ से पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरेजावाल ने पलटवार किया।

रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि राहुल गांधी देश की तरक्की की कामना के लिए धार्मिक यात्रा पर जा रहे हैं और बीजेपी षडयंत्र कर रही है। सुरजेवाला ने कहा, ‘शिवभक्त राहुल और भोले शंकर की आराधना में न बीजेपी आ पाएगी न और कोई और आ पाएगा। इस प्रकार की ओछी साजिश बीजेपी को मुबारक।’ उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी जो भोले शंकर के भक्त हैं, देश के भले के लिए वह यात्रा कर रहे हैं। बीजेपी राहुल गांधी की धार्मिक यात्रा में बाधा डाल रही है।’

सुरजेवाला ने बीजेपी के साथ-साथ पीएम मोदी को भी घेरते हुए कहा, ‘क्या देवों के देव महादेव की यात्रा के लिए भी मोदी की अनुमति लेनी होगी? क्या मोदी भोले शंकर से भी बड़े हैं? बीजेपी को इस देश की पौराणिक सभ्यता और संस्कृति का सम्मान करना चाहिए।’ राहुल पर चीन के कनेक्शन के बीजेपी के आरोपों पर सुरजेवाला ने कहा कि अगर आपके मन में भक्ति है, अगर आपके प्रति भोले शंकर के प्रति सेवाभाव है तो आप भी जाइए।

निरंजन कुमार

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here