CBDT का खुलासा, एक पार्टी मुख्यालय में भेजे गए करोड़ों रुपये

CBDT ने कहा कि दिल्ली के तुगलक रोड स्थित एक महत्वपूर्ण शख्स के घर से 20 करोड़ नकद एक बड़े दल के दिल्ली स्थित मुख्यालय भेजा गया है।

0
380

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबियों के यहां जारी छापेमारी में करोड़ों के अवैध लेनदेन का पता चलने के बीच केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने सनसनीखेज खुलासा किया है। CBDT ने कहा कि दिल्ली के तुगलक रोड (Tuglaq Road) स्थित एक महत्वपूर्ण शख्स के घर से 20 करोड़ नकद एक बड़े दल के दिल्ली स्थित मुख्यालय भेजा गया है। उल्लेखनीय है कि तुगलक रोड में कई विशिष्ट लोग रहते हैं।
सीबीडीटी ने देर रात एक बयान जारी कर कहा कि छापेमारी की अब तक की कार्रवाई में 14.6 करोड़ नकद, 252 बोतल शराब, कुछ हथियार और बाघ के छाल मिले हैं। बयान में यह भी कहा गया है कि मध्य प्रदेश में छापेमारी के बाद एक बड़े रैकेट के जरिये कारोबारी, नेता और नौकरशाहों से 281 करोड़ के अवैध लेनदेन का पता चला है।

सीबीडीटी के खुलासे

  • एक वरिष्ठ पदाधिकारी के करीबी रिश्तेदार के समूह के दिल्ली स्थित ठिकानों पर छापों के दौरान कई सबूत मिले। इनमें एक कैशबुक भी शामिल है, जिसमें 230 करोड़ के बेनामी लेनदेन का जिक्त्रस् है।
  • कैशबुक के अलावा 242 करोड़ रु. की रकम के फर्जी बिलों के जरिए हेरफेर और टैक्स हेवेन कहे जाने वाले देशों में 80 कंपनियों की मौजूदगी के सुबूत भी मिले हैं।
  • दिल्ली के पॉश इलाकों में बेनामी संपत्तियों का भी खुलासा हुआ है।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) के सहयोगियों के ठिकानों पर आयकर विभाग की कार्रवाई दूसरे दिन सोमवार को भी जारी रही। इंदौर में मुख्यमंत्री के ओएसडी प्रवीण कक्कड़ (Praveen Kakkar) से रात भर पूछताछ की गई। जबकि भोपाल में कक्कड़ के नजदीकी अश्विन शर्मा और प्रतीक जोशी के ठिकानों से पांच बक्से लेकर आयकर टीम रवाना हो गई। कहा जा रहा है कि इन बक्सों में दोनों के घरों से बरामद कैश व दस्तावेज हो सकते हैं।

हवाला कारोबार व कर चोरी के शक में मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबियों पर रविवार तड़के शुरू हुई कार्रवाई सोमवार को भी जारी रही। सोमवार दोपहर में आयकर टीम के कुछ अधिकारी अश्विन के घर से पांच बड़े सीलबंद बक्से लेकर बाहर निकले। नोट गिनने की मशीन भी उनके साथ थी। अश्विन और प्रतीक के भोपाल के प्लेटिनम प्लाजा में फ्लैट हैं। एनजीओ और आर्म्स डीलिंग समेत अनेक कामों में दखल रखने वाला अश्विन कक्कड़ का खास बताया जाता है। उसके पास आठ महंगी कारें मिली हैं। बैंक खातों और लॉकर्स का पता चला है। पासपोर्ट भी जब्त कर लिया गया है। बैंक खातों व लॉकर्स की जांच की जा रही है।

उधर इंदौर में बैंक से जुड़ी जानकारियां हासिल करने के लिए आयकर टीम कक्कड़ की पत्नी को लेकर आईडीबीआई बैंक पहुंची। एक अन्य टीम उनके पुत्र को कक्कड़ परिवार से जुड़े कई दफ्तर लेकर गई। रविवार को कक्कड़ के इंदौर स्थित घर से 30 लाख की ज्वेलरी और दो लाख कैश मिला था। उनसे रातभर पूछताछ की गई। उनके सीए अनिल गर्ग ने कहा कि आयकर अफसरों को पिछले सात साल के रिटर्न की कॉपी दे दी गई है।

राज्यपाल ने रविवार को भोपाल में सीआरपीएफ और मध्य प्रदेश पुलिस के बीच हुए टकराव के बारे में मुख्य सचिव से रिपोर्ट तलब की है। इस मुद्दे पर राज्य में सियासत भी गरमा गई है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर कहा कि प्रदेश में मौजूदा पुलिस महानिदेशक के रहते लोकसभा के निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सकते, लिहाजा उन्हें हटाया जाए, राज्य के लिए अलग स्पेशल ऑब्जर्वर नियुक्त हो और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की अतिरिक्त टुकड़ियां तैनात की जाएं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here