केंद्र को SC/ST एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट की और से झटका

0
292
SC COURT IN INDIA

एसीएसटी एक्ट को लेकर आज सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को करारा झटका दिया है। साथ ही कोर्ट ने इस संसोधन को लेकर दिए अपने आदेशों को सही ठहराया है। कोर्ट ने अपने बयान में यहां तक कह दिया कि अगर जाँच की जरूरत हो तो उसे किया जाए और दोषी पाए जाने के बाद गिरफ्तारी भी की जाए। दरसल इस बात पर सुप्रीम कोर्ट का उच्च न्यायधीश बेंच सुनवाई कर रहा है। जिसमें अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कानून को लेकर दिए फैसले पर केंद्र सरकार ने पुनर्विचार करने का अनुरोध किया है। केंद्र के आवला भी इस मामले पर चार राज्यों ने भी सुप्रीम कोर्ट में विरोध की याचिका दायर की है। सुप्रीम कोर्ट इस याचिका पर 16 मई से लगातार सुनवाई करेगा।

बता दें केंद्र की तरफ से इस फैसले पर एटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि सीधी गिरफ्तारी से पहले विभाग की अनुमति लेना जैसे बदलाव करना जरूरी थे उन्होंने कहा कि हज़ारों साल से वंचित तबके को अब जाकर सम्मान मिलना शुरू हुआ है। लेकिन कोर्ट ने इस फैसले के साथ इस तबके के लिए बुरी भावना रखने वालों का मनोबल बढ़ाने वाला है। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा कि क्‍या हम जीवन के अधिकार की रक्षा नहीं कर स‍कते ?

कुछ समय पहले इस एक्ट के आने के बाद कोर्ट ने अनुसूचित जाति-जनजाति उत्पीड़न निरोधक कानून के तहत आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी। जिसके चलते देश भर में दलितों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया गया था। जिसके बाद कोर्ट ने पुनर्विचार की मांग करते हुए केंद्र ने 2 अप्रैल को कोर्ट का रुख किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here