राष्ट्रपति से मिलने वाले विपक्षी दलों के प्रतिनिधिमंडल में शिवसेना शामिल नहीं होगी

नागरिकता कानून के खिलाफ विपक्षी पार्टियों का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति से मिलने जाएगा, मगर इसमें शिवसेना शामिल नहीं होगी।

0
512

नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ विपक्षी पार्टियों का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति (President) से मिलने जाएगा, मगर इसमें शिवसेना शामिल नहीं होगी। शिवेसना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) से जब पूछा गया कि क्या शिवसेना नागरिकता संशोधन कानून को लेकर राष्ट्रपति से मिलने जाने वाले विपक्षी पार्टियों के प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा होगी, तो उन्होंने कहा कि मैं इस बारे में नहीं जानता हूं।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने स्पष्ट कहा कि शिवसेना इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं है। गौरतलब है कि नागरिकता कानून पर विपक्षी पार्टियों का प्रतिनिधिमंडल आज राष्ट्रपति से मुलाकात करेगा।

क्या महाराष्ट्र में नागरिकता संशोधन कानून लागू किया जाएगा, तो इस सवाल के जवाब में संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा कि इसका फैसला हमारे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) कैबिनेट मीटिंग में करेंगे। बता दें कि शिवसेना ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन किया था, मगर राज्यसभा में वोटिंग से वॉकआउट कर लिया था।

गौरतलब है कि नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ देश भर के कई हिस्सों में प्रदर्शन हो रहे हैं। जामिया में प्रदर्शन (Jamia Protest) के दौरान पुलिस और छात्रों के बीच झड़प भी देखने को मिली, जिसमें करीब 60 से अधिक लोग घायल हो गए और बाद में पुलिस ने 50 छात्रों को हिरासत में भी ले लिया। इसके बाद जामिया के छात्रों ने रविवार की देर रात दिल्ली पुलिस मुख्यालय पर प्रदर्शन किया और सभी छात्रों की रिहाई के बाद प्रदर्शन खत्म किया। हालांकि, आज इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here