प्रियंका गांधी उभ्भा गांव पहुंचकर पीड़ित परिवारों से मिलीं।

प्रियंका गांधी गोलीबारी में मारे गए लोगों के परिजनों से बात की ।पिछले महीने उभ्भा गांव में जमीन के लिए 10 गोंड आदिवासियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

0
648

Sonbhadra: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मंगलवार को उभ्भा गांव (Village Ubha) पहुंच गई हैं। यहां पर प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) गोलीबारी में मारे गए लोगों के परिजनों से जमीन पर बैठकर बात कर रहीं। बता दें कि पिछले महीने उभ्भा गांव में जमीन के लिए 10 गोंड आदिवासियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

इससे पहले प्रियंका गांधी मंगलवार सुबह 10 बजे वाराणसी के लालबहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा पहुंचीं। पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। इसके बाद सड़क मार्ग से सोनभद्र जिले के उम्भा गांव पहुंची। प्रियंका गांधी उम्भा गांव में प्रभावित परिवारों से विकास कार्यों के बारे में बात करेंगी और घटना के बाद उनकी सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा उठाए कदमों की जानकारी लेंगी।

गौरतलब है कि सोनभद्र के घोरावल इलाके में 17 जुलाई को जमीन के एक टुकड़े को लेकर हुए संघर्ष में 10 गोंड आदिवासियों की हत्या कर दी गई थी और 18 अन्य घायल हो गए थे। सोनभद्र गोलीकांड में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने 19 जुलाई को पहुंचीं प्रियंका गांधी को राज्य प्रशासन ने बीच रास्ते में ही रोक लिया था और बाद में हिरासत में ले लिया था। गोलीकांड के बाद तनाव को देखते हुए प्रशासन ने इलाके में धारा 144 लागू कर दी थी। प्रियंका को वहां जाने की अनुमति नहीं दी गई।

इससे पहले प्रियंका ने वाराणसी के अस्पताल में, गोलीकांड में घायल हुए लोगों से मुलाकात की थी। वहां से उम्भा जाते हुए प्रियंका को मिर्जापुर में रोककर हिरासत में ले लिया गया था। प्रियंका सोनभद्र जाने से रोके जाने के बाद बीच सड़क पर ही बैठ गई थीं। धरने पर बैठीं प्रियंका को चुनार अतिथिगृह ले जाया गया था। अगले दिन 20 जुलाई को आदिवासी समुदाय के सदस्यों ने प्रियंका से मुलाकात की थी। उन्होंने प्रभावित परिवारों को आर्थिक मदद देने का वादा किया था। यह मदद उन्हें बाद में पार्टी नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल की ओर से दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here