चुनावी राज्य केरल में कांग्रेस को झटका, चाको ने छोड़ा ‘हाथ’

पीसी चाको ने आरोप लगाया कि केरल में विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के उम्मीदवारों का चयन 2 समूहों ने अलोकतांत्रिक तरीके से किया।

0
1020

चुनावी राज्य केरल में कांग्रेस को झटका देते हुए वरिष्ठ नेता पीसी चाको ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा देने की घोषणा करते हुए आरोप लगाया कि विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के उम्मीदवार तय करने में गुटबाजी हावी रही। संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए चाको ने कहा कि वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेजेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि केरल में विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के उम्मीदवारों का चयन 2 समूहों ने अलोकतांत्रिक तरीके से किया। इसमें एक ‘ए’ समूह का नेतृत्व ओमन चांडी और ‘आई’ समूह का नेतृत्व रमेश चेन्नीतला कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दोनों समूह दिवंगत नेता के करुणाकरन और वरिष्ठ नेता एके एंटनी के समय से ही सक्रिय है।

पीसी चाको के गुटबाजी के आरोप पर कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने ट्वीट किया, ‘यह बात वह व्यक्ति कहता है जिसने दिल्ली में गुटबाजी को सक्रियता के साथ प्रोत्साहित किया और बढ़ावा दिया। बहुत देर कर दी हुजूर जाते-जाते।’ उल्लेखनीय है कि पिछले साल दिल्ली विधानसभा चुनाव के समय चाको कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी थे। उस चुनाव में कांग्रेस का खाता भी नहीं खुल सका था।

पार्टी में कोई गुटबाजी नहीं : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा कि कांग्रेस में कोई अलग-अलग गुट नहीं हैं। पार्टी में गुटबाजी पर पीसी चाको के आरोपों से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा, ‘ऐतिहासिक रूप से कांग्रेस में आंतरिक चर्चा की परंपरा पुरानी है…यह परंपरा आज भी जारी है। कांग्रेस एक है और इसकी अध्यक्ष सोनिया गांधी हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here