गुजरात के धर्मगुरु का महिलाओं के ‘मासिक धर्म’ को लेकर विवादित बयान

स्वामी कृष्णस्वरूप दासजी ने कहा है कि पीरियड्स के दौरान पति के लिए खाना पकाने वाली महिला का पुनर्जन्म कुत्ते के रूप में होगा

0
2597

पीरियड्स (Menstrual period) को लेकर गुजरात के एक धर्मगुरु ने विवादित बयान दिए हैं। उन्होंने कहा है कि पीरियड्स (Menstrual period) के दौरान पति के लिए खाना पकाने वाली महिला का पुनर्जन्म कुत्ते के रूप में होगा, जबकि उसका बनाया खाना खाने वाला पति अगले जन्म में बैल के रूप में पैदा लेगा।

यहां ध्यान देने वाली बात है कि जिस स्वामी कृष्णस्वरूप दासजी (Krishan Swaroop Das) ने यह टिप्पणी की है, वह स्वामीनारायण मंदिर के ‘नर-नारायण देवगड़ी’ पंथ से जुड़े हैं। स्वामीनारायण मंदिर ही भुज में श्री सहजानंद ग‌र्ल्स इंस्टीट्यूट (SSGI) चलाता है, जिसकी प्रिंसिपल और महिला कर्मचारियों ने 11 फरवरी को यह जांच करने के लिए 60 छात्राओं के कपड़े उतरवा दिए थे कि कहीं वो पीरियड्स (Menstrual period) में तो नहीं हैं। कॉलेज के हॉस्टल के मेस में पीरियड्स वाली छात्राओं को दूसरी छात्राओं के साथ बैठकर खाना नहीं खाने दिया जाता। प्रिंसिपल रीता रनिंगा और महिला कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

स्वामी कृष्णस्वरूप (Krishan Swaroop Das) ने कहा कि यह निश्चित है कि जो पुरुष पीरियड्स वाली महिलाओं के हाथ का पका हुआ खाना खाता है, उसका बैल के रूप में पुनर्जन्म होगा। उन्होंने यहां तक कह दिया, ‘मुझे इसकी परवाह नहीं है कि आपको मेरे विचार पसंद हैं या नहीं, लेकिन हमारे शास्त्रों ने यह सब लिखा हुआ है। अगर कोई महिला पीरियड्स के दौरान अपने पति के लिए खाना पकाती है तो निश्चित रूप से अगले जन्म में वह कुत्ते के रूप में पैदा होगी।’ स्वामी कृष्णस्वरूप के इस प्रवचन का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। हालांकि, यह वीडियो कब का और कहां का है यह स्पष्ट नहीं पाया है।

स्वामी ने महिलाओं को इस बात के लिए फटकार भी लगाई है कि वे पीरियड्स (Menstrual period) को लेकर लापरवाह रहती हैं। उन्होंने कहा, ‘महिलाओं को यह एहसास नहीं होता कि पीरियड्स का समय तपस्या के समान है। यह हमारे शास्त्रों में लिखा है। मैं यह सब कहना नहीं चाहता था, लेकिन मुझे आपको सावधान करना था। पुरुषों को खाना पकाना सीखना चाहिए..इससे आपको मदद मिलेगी।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here