Coronavirus की दहशत: PM मोदी बोले- घबराने की जरूरत नहीं

0
361

Coronavirus: देश में कोरोना वायरस के कुछ नए मामले सामने आने के बाद लोगों में दहशत का माहौल है. नए मामलों की जानकारी के बाद पीएम मोदी ने भी जनता से अपील की है कि वह परेशान न हो. मंगलवार को पीएम मोदी (PM Modi) ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ तैयारियों के संबंध में व्यापक समीक्षा की गई है. राज्य की सरकारें और मंत्रालय इस विषय पर साथ साथ काम कर रहे हैं, ताकि कोरोना वायरस पीड़ितों को सही उपचार उपलब्ध कराया जा सके. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम सबको काम करने की जरूरत है. उन्होंने एक ट्वीट के जरिए जानकारी साझा कि किस तरह से कोरोना वायरस के प्रकोप से बचा जा सकता है.

वहीं दिल्ली में भी इसको लेकर सरकार अलर्ट मोड पर आ गई है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए सरकार की तैयारियों को लेकर मंगलवार तीन बजे स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन और अन्य शीर्ष अधिकारियों की इमरजेंसी बैठक बुलाई. अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के एक मामले की सोमवार को पुष्टि होने के बाद यह बैठक बुलाई गई है. उन्होंने कहा कि मुख्य सचिव विजय कुमार देव और स्वास्थ्य मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी बैठक में मौजूद रहेंगे और सरकार को तैयारियों के बारे में बताएंगे.

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) के दो नए केस सामने आए हैं. इनमें से एक दिल्ली और दूसरा तेलंगाना से सामने आया है. दोनों केस में कोरोना वायरस (Coronavirus) की पुष्टि हुई है, दोनों मरीज़ों को आइसोलेशन में रखा गया. बताया जा रहा है कि दिल्ली में जिस शख्स में कोरोना की जांच पॉजीटिव आई है वह हाल ही इटली का दौरा करके आया था, जबकि तेलंगाना में कोरोना पॉजिटिव शख्स दुबई की यात्रा करके आया था.

दुनिया के कई देशों में कोरोना पीड़ितों की मौत होने लगी है. चीन के बाहर ईरान और इटली में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है. इन दोनों देशों में कोरोना से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है. स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज इस बारे में प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर जानकारी दी. डॉ. हर्षवर्धन ने एक हेल्‍पलाइन नंबर भी जारी किया जो है 011-23978046. इसमें 10 डेडिकेटेड लाइन्स हैं और अभी तक 6300 कॉल्स आई हैं. एक मेल आईडी भी जारी की गई है, ncov2019@gmail.com. इस पर जानकारी के लिए 900 मेल आए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here