Coronavirus: देश में एक दिन में मिले 50 नए मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के अनुसार, इनमें से 23 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और चार लोगों की मृत्यु हो चुकी है। बाकी 196 लोगों का उपचार चल रहा है।

0
383

देश में शुक्रवार को 24 घंटों के भीतर कोरोना (Coronavirus) के 50 मामले सामने आ गए। यह किसी एक दिन में संक्रमितों की संख्या में सबसे बड़ा इजाफा है। इससे कुल संक्रमितों की संख्या 223 तक पहुंच गई। जबकि संक्रमितों के संपर्क में आने वाले 6,700 से अधिक लोगों को कड़ी निगरानी में रखा गया है।

इसमें सर्वाधिक रोगी महाराष्ट्र, केरल, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, राजस्थान एवं दिल्ली में आए हैं। दिल्ली में स्कूल-कॉलेज, कर्मचारियों की संख्या में कटौती के बाद शुक्रवार को मॉल बंद करने की घोषणा कर दी गई। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कई मामले सामने आने के बाद बार-कैफे, सैलून-ब्यूटी पार्लर तत्काल प्रभाव से बंद कर दिए गए। महाराष्ट्र ने पांच शहरों में कामबंदी लागू कर दी है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के अनुसार, इनमें से 23 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और चार लोगों की मृत्यु हो चुकी है। बाकी 196 लोगों का उपचार चल रहा है। जयपुर में भी एक इटली के नागरिक की मौत हुई है लेकिन स्वस्थ होने के बाद हार्ट अटैक से उसकी मौत हुई है। दिल्ली में अभी तक एक विदेशी सहित 17 लोग संक्रमित हैं। उत्तर प्रदेश में एक विदेशी सहित 23 मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र में तीन विदेशियों समेत संक्रमण के मामले 52 हो गए हैं, केरल में 28 मामले दर्ज किए गए हैं।

कर्नाटक (Karnataka) में कोरोना के 15 मरीज हैं। लद्दाख में 10 और जम्मू-कश्मीर में चार संक्रमित हुए हैं। तेलंगाना में नौ विदेशियों समेत 17 मामले सामने आए हैं। राजस्थान में दो विदेशियों समेत 17 संक्रमित हैं। तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में 3-3 लोग संक्रमित हैं। ओडिशा में दो, उत्तराखंड में तीन, पश्चिम बंगाल और पंजाब में दो-दो, पुडुचेरी व चंडीगढ़ में एक-एक मरीज मिला है। हरियाणा में 14 विदेशियों समेत 17 लोग संक्रमित हैं। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने कहा है कि 13,486 लोगों से कुल 14,376 नमूनों की 20 मार्च तक सार्स-कोवी2 जांच की गई।

सरकार ने आश्वस्त किया कि अभी तक कोविड (COVID-19) का सामुदायिक संक्रमण नहीं हुआ है। सरकार के पास इस वायरस की रोकथाम के लिए किसी भी प्रकार के संसाधनों की कमी नहीं है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने रविवार को जनता कर्फ्यू का ऐलान किया है इससे संक्रमण की रोकथाम में मदद मिलेगी।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry Of Health & Family Welfare) ने कहा कि संक्रमण के मामले हाल के दिनों में बढ़ रहे हैं। यह अति संक्रामक वायरस है। इसलिए लोग सामाजिक दूरी बनाकर रहे हैं और सरकार द्वारा सुझाए गए कदमों का पालन करें। केंद्र सरकार ने कहा कि राज्यों की मदद के लिए केंद्रीय अधिकारियों की टीमें भेजी गई हैं। राज्यों को कहा गया है कि वे अपनी शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए भीड़भाड़ रोकने के उपाय सुनिश्चित करें।

सूत्रों के मुताबिक, शनिवार-रविवार की दरमियानी रात 12 बजे से रात दस बजे तक कोई यात्री ट्रेन नहीं चलेगी। उपनगरीय ट्रेन सेवाएं के फेरे में भी कम रहेंगे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here