महेला जयवर्धने ने इंग्लिश स्पिनरों को किया आगाह, कहा- भारत के खिलाफ गेंदबाजी करना आसान नहीं होगा

इंग्लैंड को 5 फरवरी से चार टेस्ट मैचों की सीरीज भारत के खिलाफ खेलनी है। इस सीरीज से पहले श्रीलंका के पूर्व क्रिकेटर महेला जयवर्धने ने इंग्लिश स्पिनरों को नसीहत दी कि है वह भारतीय बल्लेबाजों से बचकर रहें।

0
1056

इंग्लैंड ने हाल में श्रीलंका के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-0 से क्लीनस्वीप किया। इस सीरीज के दौरान इंग्लिश स्पिनरों ने श्रीलंकाई बल्लेबाजों को जमकर परेशान किया। डॉम बेस और जैक लीच ने मिलकर इस सीरीज के दौरान कुल 22 विकेट लिए। बेस के खाते में 12 और लीच के खाते में 10 विकेट गए। अब इंग्लैंड को 5 फरवरी से चार टेस्ट मैचों की सीरीज भारत के खिलाफ खेलनी है। इस सीरीज से पहले श्रीलंका के पूर्व क्रिकेटर महेला जयवर्धने ने इंग्लिश स्पिनरों को नसीहत दी कि है वह भारतीय बल्लेबाजों से बचकर रहें।

जयवर्धने ने ‘स्काय स्पोर्ट्स’ से कहा, ‘मुझे लगता है कि यह बेहद मजेदार सीरीज होगी। यह इन खिलाड़ियों के लिए अच्छी चुनौती होगी। इसी का नाम क्रिकेट है। आपको विदेशों में जाकर टेस्ट सीरीज जीतनी होती हैं।’ उन्होंने कहा, ‘इन दो स्पिनरों (बेस और लीच) ने यहां काफी अनुभव हासिल किया होगा, लेकिन भारत में उनके लिए बड़ी चुनौती होगी।’ जयवर्धने का हालांकि मानना है कि इंग्लैंड भारतीय सीरीज के लिए अच्छी तरह से तैयार है, खासकर इस सीरीज में उसे ऑलराउंडर बेन स्टोक्स और तेज गेंदबाज जोफरा आर्चर की सेवाएं मिलेंगी।

स्टोक्स और आर्चर दोनों को श्रीलंका सीरीज में आराम दिया गया था। जयवर्धने ने कहा, ‘बेन स्टोक्स की वापसी इंग्लैंड के लिए सबसे बड़ा फायदा होगा, क्योंकि वह अनुभवी हैं और उनके टॉप ऑर्डर में बाएं हाथ का एक और बल्लेबाज आ जाएगा जो कि अहम होगा।’ उन्होंने कहा, ‘जोफरा आर्चर अपनी तेजी से खासकर धीमे विकेटों पर कुछ खास कर सकते हैं। कुल मिलाकर वे बहुत अच्छी तरह से तैयार हैं।’ भारतीय सीरीज के लिये सलामी बल्लेबाज रोरी बर्न्स को भी इंग्लैंड की टीम में शामिल किया गया है, लेकिन जयवर्धने ने कहा कि उनके लिए यह चुनौती आसान नहीं होगी। उन्होंने कहा, ‘रोरी बर्न्स अगर पारी का आगाज करते हैं तो उनके लिए यह चुनौती होगी। उन्होंने हाल में बहुत अधिक क्रिकेट नहीं खेली है।’

जयवर्धने ने विकेटकीपर बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टॉ को टीम में शामिल नहीं करने पर निराशा जताई। उन्होंने कहा, ‘वह अनुभवी हैं और खासकर जिस तरह से उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में बल्लेबाजी की थी उसे देखते हुए उन्हें टीम में शामिल होना चाहिए था।’ केविन पीटरसन और माइकल वॉन भी बेयरस्टॉ को टीम में शामिल करने की वकालत कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here