पंचकूला में अंतिम संस्‍कार के बाद ‘मृत’ लड़की थाने पहुंची।

पंचकूला में एक लड़की का अधजला शव मिला था। शव का अंतिम संस्‍कार कर दिया गया। अंतिम संस्‍कार के चार घंटे बाद ही लड़की थाने में लौट आई।

0
517

Panchkula के श्री माता मनसा देवी मंदिर कांप्लेक्स में एक लड़की का अधजला शव मिला था। एक व्‍यक्ति ने उसकी शिनाख्‍त अपनी बेटी के रूप में की और इसके बाद शव का अंतिम संस्‍कार कर दिया गया। जिस लड़की को मृत मानकर अंतिम संस्‍कार कर दिया वह चार घंटे बाद ही थाने में लौट आई। इससे वहां तैनात पुलिसकर्मियों के होश उड़ गए।अब यह पूरा मामला पुलिस के लिए मिस्‍ट्री बन गया है। पुलिस के लिए मृत लड़की की पहचान करना बड़ी चुनौती बन गई है।

दो दिन पहले श्री माता मनसा देवी मंदिर कांपलेक्‍स (Shri Mata Mansa Devi Mandir Complex) में एक लड़की का अधजला शव मिला था। आशंका है कि उसकी हत्‍या करने के बाद शव को जलाने का प्रयास किया गया है। इसके बाद चंडीगढ़ की इंदिरा कालोनी (Indira Colony, Chandigarh) के एक व्‍यक्ति ने लड़की को अपनी बेटी बताया और पुलिस ने औपचारिकताएं पूरी करने के बाद उसे शव सौंप दिया। परिवार ने शव का अंतिम संस्‍कार कर दिया।

पुलिस लड़की की हत्‍या की गुत्‍थी सुलझाने की कोशिश में लगी थी। शव को जिस लड़की का मान कर अंतिम संस्कार किया गया था वह लड़की अंतिम संस्‍कार के चार घंटे बाद ही पुलिस थाने में पहुंच गई। इससे पुलिसकर्मियों के होश उड़ गए। इसके बाद इस नाबालिग ल़ड़की ने थाने में जो बयान दिया उससे पुलिस वाले हैरान रह गए।

लड़की ने बताया कि उसके माता-पिता उसकी मर्जी के खिलाफ उसकी शादी करना चाहते थे। उन्‍होंने उसकी शादी तय कर दी थी, लेकिन वह अभी शादी नहीं करना चाहती थी। इसलिए खुद घर से चली गई थी। उसे कोई जबरन नहीं लेकर गया था।

चंडीगढ़ पुलिस ने सोमवार को ही मृत मिली लड़की का पिता के दावा करने वाले व्‍यक्ति की इस बात को मानने से इंकार कर दिया था कि पंचकूला में जिस युवती का शव मिला है, वह उसकी बेटी है।

चंडीगढ़ पुलिस के पास पुख्ता सूचना थी कि लल्लन की बेटी सही सलामत है, लेकिन पंचकूला पुलिस ने इस मामले में लल्लन की थ्योरी पर यकीन करते हुए उसके बयान के आधार पर शव का पोस्टमार्टम करवा दिया और उससे शव का अंतिम संस्कार करवाया। पुलिस ने कोई जोखिम न उठाते हुए अपनी मौजूदगी में अंतिम संस्कार करवाया। पुलिस द्वारा शव का डीएनए ले लिया गया है। साथ ही पूरी फोटोग्राफी करवाई गई है।

पंचकूला आइटी पार्क थाना प्रभारी लखविंद्र सिंह ने बताया कि उक्‍त व्‍यक्ति की नाबालिक बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट 29 अप्रैल को दर्ज की गई थी। मंगलवार रात को वह थाने में आई और उसने बताया कि आज अखबार में पढक़र पता चला कि उसके पिता ने दावा किया है कि एमडीसी में जिस लडक़ी की लाश मिली है, वह उसकी बेटी है।खबर पढ़ते ही वह वापिस लौटी है। पुलिस ने लड़की का मेडिकल करवाया और बुधवार को उसे मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर उसके बयान दर्ज करवाए गए।

इंदिरा कालोनी के इस व्‍यक्ति (लड़की के पिता) ने एक युवक पर आरोप लगाया कि वह उसकी बेटी का पीछा करता था। 23 मार्च वह सवा आठ बजे स्कूल के लिये गई थी, लेकिन वापिस नहीं आई। वह नौवीं कक्षा में पढ़ती थी। वह उसका पीछा करता था। हमने सोचा था कि दो तीन साल में उसकी शादी कर देंगे, परंतु युवक धमकी देता था कि यदि उसकी शादी कहीं ओर करने के बारे में सोचेंगे, तो उसे मार दूंगा।

उस व्यक्ति के अनुसार एक बार पहले भी उसकी बेटी को जबरन ले गया था, लेकिन पुलिस की सख्ती के बाद उसे वापिस लौटा गया था। देर रात बेटी के वापिस आने पर उसने कहा कि मुझे जो लगा, वही मैंने पुलिस को बताया। अब बेटी वापिस आ गई है।

ल़ड़की की मां ने बताया कि उसकी बेटी से अंतिम बार 23 मार्च बातचीत हुई थी। आइटी पार्क पुलिस के पास वह कई बार अपनी शिकायत लेकर गए थे, लेकिन पुलिसकर्मी उन्हें डरा धमकाकर भगा देते थे। कार्रवाई करने से भी इन्‍कार कर देते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here