पराली जलाने की समस्या के समाधान के लिए डेडलाइन तय की जाए : अरविंद केजरीवाल

केजरीवाल ने सोमवार को एक डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ''पराली की समस्या से निपटने के लिए डेडलाइन निश्चित की जाए.

0
1873

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने प्रदूषण (Pollution) के मुद्दे को लेकर कहा है कि केंद्रीय पर्यावरण मंत्री, यूपी, पंजाब, दिल्ली और हरियाणा के मुख्यमंत्री की बैठक बुलाएं. केजरीवाल ने सोमवार को एक डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ”पराली की समस्या से निपटने के लिए डेडलाइन निश्चित की जाए. मुझे लगता है कि युद्धस्तर पर काम करें तो एक साल में हम पराली को लाइबिलिटी के बजाय एसेट्स में बदल सकते हैं. केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर महीने पंजाब, हरियाणा, यूपी और दिल्ली के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करें.”

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ”पराली से प्रदूषण पूरे उत्तर भारत मे होता है. दिल्ली से ज्यादा उन किसानों के लिए चिंता होती है जो ये पराली जलाते हैं. पूसा के एक एक्सपेरिमेंट पर दिल्ली सरकार दिल्ली में छिड़काव कर रही है. इससे खाद बनेगी. करनाल में पराली से CNG बनाने का बहुत बड़ा कारखाना शुरू हो गया है. इसमें किसान को पैसा मिलता है. किसान का कोई खर्च नही है. गैस भी IGL खरीद लेती है.”

उन्होंने कहा कि ”पंजाब में पराली से कोयला बनाने वाली सात फैक्ट्री चल रही हैं. ये NTPC को कोयला बेचती हैं. पराली से गत्ता बनता है. अगर हम सारी सरकारें मिलकर ऐसे काम करने लगें कि पराली जलाई जाने के बजाए ऐसी फैक्ट्री में लग जाए. इससे कितना फायदा होगा.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here