दिल्ली सरकार भी शराब की होम डिलीवरी पर कर रही विचार

दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव ने एक्साइज कमिश्नर रवि धवन को राज्य में शराब की होम डिलीवरी के लिए यथाशीघ्र विस्तृत प्रस्ताव तैयार करके जमा करने के लिए कहा है।

0
580

कोरोना (COVID-19) के कहर के बीच शराब की दुकानों के बाहर हो रहे सोशल डिस्टेंन्सिंग (Social Distancing) के उल्लंघन को देखते हुए अब दिल्ली में शराब की होम डिलीवरी (Home Delivery) कराने पर विचार चल रहा है। छत्तीसगढ़ में यह स्कीम पहले से लागू है, जबकि दुकानों के बाहर लगने वाली भीड़ को रोकने के लिए बुधवार को पंजाब सरकार ने भी शराब की होम डिलीवरी कराने के फैसले पर मुहर लगाई।

रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव ने एक्साइज कमिश्नर रवि धवन को राज्य में शराब की होम डिलीवरी के लिए यथाशीघ्र विस्तृत प्रस्ताव तैयार करके जमा करने के लिए कहा है। हालांकि, इस बारे में अंतिम फैसला दिल्ली सरकार ही लेगी।

दिल्ली में अगर शराब की होम डिलीवरी (Home Delivery) का फैसला लागू होता है तो शहरी इलाकों में यह करन में ज्यादा मुश्किल नहीं होगा मगर ग्रामीण इलाके जहां अनाधिकृत कॉलोनियां हैं और दुकानों की कमी है, वहां मुश्किलों का सामना करना पड़ता सकता है। सरकारी सूत्रों की मानें तो यह प्रस्ताव अभी शुरुआती स्टेज में ही है और अगर यह लागू हो जाता है तो सघन आबादी वाले दिल्ली में समय पर मांग की पूर्ति कर पाना असल चुनौती होगी।

गृह मंत्रालय के आदेश के मुताबिक दिल्ली सरकार ने सोशल डिस्टेंन्सिंग (Social Distancing) का पालन करते हुए सरकारी शराब की दुकानों को खोलने की इजाजत दी थी। हालांकि, शराब की ऐसी दुकानें जो मॉल या मार्केट कॉम्प्लेक्स में हैं वे अभी नहीं खुल सकेंगी।

कोरोना की लड़ाई में सोशल डिस्टेंन्सिंग (Social Distancing) का अपना महत्त्व है मगर सरकार अर्थव्यवस्था में जान फूंकने का हर संभव प्रयास कर रही है। राजस्व जुटाने और सरकार की कमाई में इजाफा करने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। मंगलवार को दिल्ली सरकार ने शराब पर 70 फीसदी कोरोना फीस लगाई मगर इससे भी शराब की बिक्री पर खासा असर नहीं पड़ा। सोमवार को जहां तकरीबन साढ़े 4 करोड़ की शराब बिकी, वहीं कीमत में 70 फीसदी इजाफा होने के बावजूद मंगलवार दोपहर तक यह आंकड़ा साढ़े तीन करोड़ को पार कर गया।

इन सब के बीच शराब निर्माता कंपनियों के संगठन दि कंफेडरेशन ऑफ इंडियन अल्कोहल बेवरेज कंपनीज (CIABC) के लोग गुरुवार को सरकार से मुलाकात करेंगे। संगठन के डायरेक्टर जनरल विनोद गिरी ने बताया कि हम होम डिलीवरी के अलावा दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ को कम करने के लिए Lockdown के बीच दुकानों की संख्या को बढ़ाने का भी सुझाव देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here