आज दिल्ली एनसीआर में हो सकती है बारिश, कोहरा और ठण्ड बढ़ने के आसार

राष्ट्रीय राजधानी में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़त शुरू हुई थी। हालांकि, अगले दो दिन में फिर से मौसम बदलने के कारण पारा 2 से 3 डिग्री तक कम होने का अनुमान है।

0
245

दिल्ली (Delhi) के तापमान (Temperature) में बुधवार को भी बढ़त जारी रही। औसत से दो डिग्री ज्यादा तापमान के साथ दिल्ली का अधिकतम तापमान 25.1 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं, न्यूनतम तापमान अपने औसत से तीन डिग्री सेल्सियस ज्यादा 12 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग के मुताबिक, बुधवार 2019 का सबसे गर्म दिन रिकॉर्ड किया गया। वहीं, बीते सात वर्षों में 6 फरवरी की तारीख पर इतनी गर्मी कभी नहीं पड़ी। बुधवार को भी दिल्ली का अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था।

मौसम विभाग (Meteorological Department) का अनुमान है कि पहाड़ समेत उत्तर-पश्चिम (North-West) के मैदानी भागों में सात फरवरी से 10 फरवरी तक अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश, ओलावृष्टि और सर्द हवाओं का सामना लोगों को करना पड़ सकता है।

राष्ट्रीय राजधानी में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़त शुरू हुई थी। हालांकि, अगले दो दिन में फिर से मौसम बदलने के कारण पारा 2 से 3 डिग्री तक कम होने का अनुमान है।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़ में 9 और 10 दिसंबर को घना कोहरा हो सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक बृहस्पतिवार और शुक्रवार तक जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड में भारी वर्षा, ओलावृष्टि और बर्फबारी भी हो सकती है। वहीं, दिल्ली पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में भी वर्षा, ओलावृष्टि की संभावना है। इसके अलावा सतह पर तेज गति वाली हवाएं भी चल सकती हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से आने वाली हवाओं के कारण उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में नमी बढ़ सकती है। ऐसे में न्यूनतम पारा फिर से लुढ़क सकता है। दिल्ली और आस-पास कुछ क्षेत्रों में बुधवार को भी बारिश हुई। वहीं, बृहस्पतिवार को भी बारिश, गर्जन और ओलावृष्टि का अनुमान है।

दिल्ली-एनसीआर वायु गुणवत्ता बहुत खराब स्तर पर ही बरकरार है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के मुताबिक मौसम में बदलाव की वजह से वायु गुणवत्ता में सुधार नहीं हो रहा। वहीं, सीपीसीबी (CPCB) की ओर से बुधवार को जारी वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) के मुताबिक दिल्ली का एक्यूआई स्तर 352, फरीदाबाद का एक्यूआई (AQI) स्तर 156, गाजियाबाद का एक्यूआई स्तर 366, ग्रेटर नोएडा का एक्यूआई 358, गुरुग्राम का एक्यूआई 222, नोएडा का एक्यूआई 369 रिकॉर्ड किया गया। 101 से 200 का एक्यूआई स्तर मध्यम श्रेणी का प्रदूषण, 201 से 300 का एक्यूआई खराब, 301 से 400 का एक्यूआई बहुत खराब व 401 से 500 का एक्यूआई गंभीर वायु प्रदूषण का स्तर माना जाता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here