कैंसर का मिला तोड़ अब ज्यादा दिन नहीं टिक पाएगा कैंसर

0
307
canceer

कैंसर को लेकर वैज्ञानिकों के हाथ काफी अच्छी सफलता हाथ लगी है। दुनिया में बहुत से लोग ज्यादातर अपनी बिमारियों के चलते चिंता में रहते है लेकिन उनका इलाज भी हो जाता है किन्तु कैंसर एक ऐसी बीमारी है अगर उसकी समय पर पहचान न की जाए तो इंसान की मृत्यु होना तय है। लेकिन हालही में वैज्ञानिकों ने इस बीमारी का सफल परीक्षण कर लिया है जो काफी हद तक अपनी करवाई में सफल भी हुआ है। इस प्रयोग को इंसान पर अभी काफी समय के बाद उपयोग में लाया जाएगा।

बता दें यह प्रयोग 11 वैज्ञानिकों की टीम ने किया जिसमे उन्हें सफलता मिली इस शोध के बाद क्लेवलैंड क्लीनिक, अमेरिका में किया, जो विश्व में दूसरे स्थान पर है। वैज्ञानिकों की टीम का नेतृत्व क्लेवलैंड क्लीनिक में कैंसर बायोलॉजी के प्रोफेसर डॉ. यांग ली ने किया, बीते साल वे इलाहाबाद विश्वविद्यालय आए थे और यहां सात साल से 14 जुलाई तक कैंसर जागरूकता कार्यक्रम के तहत उनके कई लेक्चर भी आयोजित किए गए थे।

वहीं भारत के इलाहाबाद विश्वविद्यालय के एक डॉक्टर मुनीश भी इस टीम के दावेदार रहे इस रिसर्च को औंको जीन नामक प्रतिष्ठित जरनल में पब्लिशर नेचर स्प्रिंग की ओर से प्रकाशित किया गया है। डॉ. मुनीश ने बताया कि कैंसर की बीमारी से शरीर में ट्यूमर बन जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here