चुनाव आयोग ने, EVM हैक किये जाने के दावे के मामले में, दिल्ली पुलिस को FIR दर्ज कर तत्काल जांच शुरू करने का दिया निर्देश

चुनाव आयोग (Election Commission ) ने ब्रिटेन (Britain) में एक हैकर द्वारा ईवीएम हैक (EVM Hack) किये जाने के दावे के मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) को FIR दर्ज करने को और इसकी तत्काल जांच शुरू करने का निर्देश दिया है।

0
277

चुनाव आयोग (Election Commission ) ने ब्रिटेन (Britain) में एक हैकर द्वारा ईवीएम हैक (EVM Hack) किये जाने के दावे के मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) को FIR दर्ज करने को कहा है। EC ने नई दिल्ली जिला (New Delhi Distt) के पुलिस उपायुक्त को लिखे पत्र में भारतीय दंड संहिता की धारा 505(A) (B) के तहत यह मामला दर्ज करके इसकी तत्काल जांच शुरू करने का निर्देश दिया है।
अमेरिका (America) में राजनीतिक शरण चाह रहे एक स्वयंभू भारतीय साइबर विशेषज्ञ ने सोमवार को सनसनीखेज दावा किया था कि भारत में 2014 के आम चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM ) के जरिये ‘धांधली हुई थी। उसका दावा है कि EVM को हैक किया जा सकता है। चुनाव आयोग ने उसके इस दावे को खारिज कर दिया था। वहीं भारत में भाजपा और आम आदमी पार्टी ने जहां इस दावे को खारिज कर दिया, कांग्रेस ने कहा कि ये आरोप बेहद गंभीर हैं।

भारतीय चुनाव आयोग ने इस पूरे मामले को कोरी अफवाह बताया है। चुनाव आयोग ने कहा कि EVM हैकिंग के दावे का मामला हमारे संज्ञान में आया है। लंदन में आयोजित एक इवेंट के दौरान यह दावा किया गया है कि भारतीय चुनाव आयोग द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली EVM मशीनों में छेड़छाड़ की गई थी। चुनाव आयोग इस मामले में पार्टी नहीं बनना चाहता। EVM हैकिंग का दावा एक प्रायोजित चुनौती है। चुनाव आयोग ने हैकिंग के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि आयोग अपने दावे पर कायम है कि भारत में इस्तेमाल की जाने वाली EVM मशीन को हैक नहीं किया जा सकता।

इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन को लंदन में कथित रूप से हैक करने के दावे पर चुनाव आयोग ने कहा है कि वह EVM की सत्यता और उसके फूलप्रूफ (Fool proof ) होने की बात पर मजबूती से खड़ा है। आयोग ने कहा कि हम देख रहे हैं कि इस मामले में क्या कानूनी कार्रवाई की जा सकती है। क्योंकि आम चुनाव के कुछ दिन पहले EVM हैक करने के दावे करने और लोगों के मन में संदेह पैदा करने की कोशिश की गई है।

कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि EVM से जुड़े संदेह को खत्म करने के लिए चुनाव आयोग (Election Commission ) आगामी लोकसभा चुनाव में 50 फीसदी वीवीपैट का मिलान सुनिश्चित करे। पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ‘हम चाहते थे कि मतपत्रों से चुनाव हों, लेकिन अब दो-तीन महीने का समय है इसलिए फिलहाल मतपत्रों से चुनाव संभव नहीं है। ऐसे में वीवीपैट की 50 फीसदी पर्चियों का मिलान होना चाहिए।’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को कहा कि विपक्षी पार्टियां अमेरिका के एक साइबर विशेषज्ञ की ओर से EVM की हैकिंग के बारे में किए गए दावे का मुद्दा चुनाव आयोग के समक्ष उठाएंगी। भारतीय पत्रकार संगठन (यूरोप) की ओर से लंदन में आयोजित एक कार्यक्रम में साइबर विशेषज्ञ ने दिखाया कि EVM किस तरह से कथित तौर पर हैक की जा सकती हैं।

TMC प्रमुख ममता ने एक ट्वीट में कहा कि हर एक वोट बेशकीमती है और यह मुद्दा उठाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ”हमारे महान लोकतंत्र का निश्चित तौर पर संरक्षण होना चाहिए। आपका हर वोट बेशकीमती है। ‘यूनाइटेड इंडिया ऐट ब्रिगेड रैली के बाद सभी विपक्षी पार्टियों ने EVM के मुद्दे पर चर्चा की। हम साथ मिलकर काम कर रहे हैं और हमने 19 जनवरी को ही तय कर लिया था कि इस मामले को चुनाव आयोग के सामने लगातार उठाएंगे। हां, हर वोट अहम है

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here