प्रधानमंत्री के बालाकोट हमले के बयान पर चुनाव आयोग ने रिपोर्ट मांगी

चुनाव आयोग ने पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा बालाकोट में भारतीय सेना की कार्रवाई और पुलवामा हमलो को ध्यान में रखकर वोट करने की बात पर संज्ञान लेते हुए रिपोर्ट मांगी है.

0
138

चुनाव आयोग (Election Commission) ने पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) द्वारा पहली बार मतदान करने जा रहे युवाओं से बालाकोट में भारतीय सेना की कार्रवाई और पुलवामा हमलो को ध्यान में रखकर वोट करने की बात पर संज्ञान लेते हुए रिपोर्ट मांगी है. सूत्रों के अनुसार चुनाव आयोग (Election Commission) ने महाराष्ट्र के मुख्य चुनाव आयोग से पीएम मोदी (PM Modi) के ऐसे भाषण पर रिपोर्ट तलब किया है. उधर, मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने मंगलवार को निर्वाचन आयोग (Election Commission) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. पार्टी ने आरोप लगाया है कि मोदी ने महाराष्ट्र में एक रैली में पहली बार मतदान करने वालों से बालाकोट में आतंकी शिविर पर हवाई हमला करने वाले वायुसैनिकों के नाम पर वोट मांगकर चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन किया है.

निर्वाचन आयोग को भेजे पत्र में वरिष्ठ माकपा नेता नीलोत्पल बसु ने कहा कि इस तरह के बयान चुनाव पूर्व माहौल को दूषित कर रहे हैं, जो बहुत तेजी से ध्रुवीकरण की तरफ जा रहा है, इसलिए आयोग को पूरी सख्ती से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने अपने पत्र में कहा है, “बेहद अफसोस के साथ हम आपका ध्यान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आदर्श चुनाव आचार संहिता के ताजा उल्लंघन की तरफ दिलाना चाहते हैं. उन्होंने निर्वाचन आयोग के इस स्पष्ट निर्देश का भी उल्लंघन किया है कि सशस्त्र बलों के नाम पर वोट नहीं मांगा जाए.

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के लातूर में मोदी ने एक रैली में पहली बार मतदान करने जा रहे मतदाताओं से कहा कि ‘वे अपने मत उन बहादुर लोगों को समर्पित करें, जिन्होंने पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमले को अंजाम दिया।’ खास बात यह है कि निर्वाचन आयोग ने बीते महीने सभी राजनैतिक दलों से अपने चुनाव प्रचार में सशस्त्र बलों या उनकी उपलब्धियों का इस्तेमाल नहीं करने को कहा था. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here