England vs India 3rd test: भारत जीत से सिर्फ 1 विकेट दूर, जसप्रीत बुमराह की घातक बोलिंग

0
270

मेहमान भारतीय टीम का नॉटिंगम टेस्ट जीतना लगभग तय है। वह जीत से सिर्फ 1 विकेट दूर है। दूसरी पारी के आधार पर टीम इंडिया ने मेजमान टीम को 521 रनों लक्ष्य दिया। जवाब में इंग्लिश टीम ने चौथे दिन का खेल खत्म होने तक 9 विकेट के नुकसान पर 311 रन बना लिए हैं। आदिल रशीद (30) और जेम्स एंडरसन (8) नाबाद लौटे। पहली पारी में सिर्फ 161 रन बना पाने वाली मेजबान टीम की दूसरी पारी में भी शुरुआत बेहद खराब रही और चौथे दिन के पहले सत्र में उसने 4 विकेट गंवाए। इसके बाद जोस बटलर और बेन स्टोक्स की जोड़ी ने हालांकि चौथे विकेट के लिए 169 रनों की साझेदारी करते हुए भारत को जीत से दूर रखा।

इशांत ने 11वीं बार किया कुक को आउट
इंग्लैंड ने दिन की शुरुआत बिना विकेट खोए 23 रन से की। इशांत ने दोनों ही सलामी बल्लेबाजों को सुबह जल्दी चलता किया। कीटॉन जेनिंग्स (13) दिन की 5वीं गेंद पर विकेटकीपर ऋषभ पंत को कैच दे बैठे। इशांत ने अपने अगले ओवर में पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक (17) को दूसरी स्लिप में लोकेश राहुल के हाथों कैच कराकर इंग्लैंड का स्कोर 32 रन पर दो विकेट कर दिया। यह 11वां मौका रहा, जब इंशात ने कुक को आउट किया। कप्तान जो रूट (13) और पोप (16) ने इसके बाद तीसरे विकेट के लिए 30 रन जोड़े। इंग्लैंड के 50 रन 19वें ओवर में पूरे हुए।

रूट और पोप यूं हुए आउट
रूट और पोप दोनों हालांकि इस साझेदारी के दौरान अधिकतर समय असहज दिखे। रूट को बुमराह की कोण लेती गेंदों के खिलाफ परेशानी का सामना करना पड़ रहा था, जबकि पोप जोखिम उठाते हुए ड्राइव लगा रहे थे। ये दोनों अंतत: 25वें और 26वें ओवर में पांच गेंद के भीतर पविलियन लौट गए। रूट पहले आउट हुए। बुमराह की बाहरी जाती गेंद पर कड़ा प्रहार करने की कोशिश में उन्होंने दूसरी स्लिप में राहुल को कैच थमाया। पोप भी इसके बाद शमी की आफ स्टंप से बाहर जाती गेंद पर खराब शॉट खेलकर स्लिप में कैच दे बैठे। कप्तान विराट कोहली ने राहुल के आते गोता लगाते हुए कैच लपका।

चौके से पूरी की सेंचुरी
इंग्लैंड की स्थिति और खराब होती, लेकिन युवा पंत ने पारी के 27वें ओवर में बुमराह की गेंद पर बटलर का मुश्किल कैच टपका दिया। बटलर इस समय एक रन बनाकर खेल रहे थे। चाय के बाद बटलर और स्टोक्स ने सतर्क शुरुआत की। दोनों ने शुरुआती चार ओवर में सिर्फ एक रन बनाया, लेकिन इसके बाद कुछ आकर्षक शॉट खेले। जीवनदान मिलने के बाद जोस बटलर ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्होंने 76वें ओवर में 152वीं गेंद पर चौका लगाकर टेस्ट करियर की पहली सेंचुरी जड़ी।

जसप्रीत बुमराह की घातक बोलिंग
बटलर बड़े धैर्य के साथ खेल रहे थे, तभी 81वें ओवर में भारतीय टीम ने नई गेंद ली। कप्तान विराट ने गेंदबाजी में बदलाव करते हुए जसप्रीत बुमराह को आक्रमण पर लगा दिया। बुमराह ने नई गेंद से पहले तो बटलर (106 रन, 176 गेंद, 21 चौके) का शिकार किया, फिर नए बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो (0) को पविलियन भेज दिया। बटलर और स्टोक्स के बीच 5वें विकेट के लिए 169 रनों की साझेदारी हुई। बेन स्टोक्स (62 रन, 187 गेंद और 6 चौके) का विकेट हार्दिक पंड्या को मिला, जबकि बुमराह ने क्रिस वोक्स (4) और स्टुअर्ट ब्रॉड (20) को आउटकर अपने 5 विकेट पूरे किए। भारत जीत के करीब दिख रहा था तो खेल का समय बढ़ाया गया, लेकिन आदिल रशीद और जेम्स एंडरसन ने विकेट बचाए रखा।

भारत की दूसरी पारी का रोमांच
इससे पहले टीम इंडिया ने इंग्लैंड को 521 रनों का लक्ष्य दिया। भारतीय टीम ने अपनी दूसरी पारी में 110 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 352 रन बनाए, जबकि पहली पारी में 329 रन बनाए थे। दूसरी पारी में भारत की ओर से कप्तान विराट कोहली ने सबसे अधिक 103 रनों की पारी खेली, जबकि चेतेश्वर पुजारा ने 72 रन बनाए। अंतिम समय में हार्दिक पंड्या (52 गेंद में नाबाद 52 रन, 7 चौके और 1 छक्का) ने तूफानी बैटिंग करते हुए हाफ सेंचुरी पूरी की। बता दें कि 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में पहले दोनों मैच गंवाने वाली भारतीय टीम ने इस मैच में इंग्लैंड की पहली पारी सिर्फ 161 रन पर समेट दी थी।

इंग्लैंड की पहली पारी 161 रनों पर सिमटी
इससे पहले, पंड्या ने इंग्लिश बल्लेबाजों को भारत के पहली पारी के स्कोर के आस-पास तक भी नहीं जाने दिया। एक बार जब पंड्या ने सफलता का स्वाद चखा तो वह लगातार विकेट पर विकेट लेते गए और इंग्लिश पारी सिर्फ 161 रन पर ही सिमट गई। उसके लिए सबसे अधिक जोस बटलर ने 39 रनों की पारी खेली। पंड्या ने 5 विकेट झटके। यह प्रदर्शन टेस्ट में उनका अभी तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। उनके अलावा जसप्रीत बुमराह और इशांत शर्मा ने दो-दो विकेट अपने नाम किए। मोहम्मद शमी को एक विकेट मिला।

टीम इंडिया की पहली पारी
टीम इंडिया ने पहली पारी में 94.5 ओवरों में 329 रन बनाए थे। उसके लिए सबसे ज्यादा 97 रन कप्तान विराट कोहली ने बनाए। उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने 81 रनों का योगदान दिया। दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 159 रनों की साझेदारी के दम पर भारतीय टीम मजबूत स्कोर खड़ा करने में सफल रही। इंग्लैंड के लिए एंडरसन, ब्रॉड और क्रिस वोक्स ने तीन-तीन विकेट लिए। आदिल रशीद ने एक विकेट लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here