सिंघु बॉर्डर पर 20 किलोमीटर तक लगी ट्रैक्टरों की लाइन, टीकरी बॉर्डर पर 13 किलोमीटर लंबा जाम

सिंघु बॉर्डर से बहालगढ़ के आगे तक जाम के हालात है। ऐसे में किसानों को दिल्ली पहुंचने में ही कई घंटे लगने की संभावना है।

0
349

सोनीपत में सिंघु बॉर्डर से किसानों की ट्रैक्टर परेड सुबह करीब पौने नौ बजे शुरू हुई। उसके बावजूद अभी करीब 20 किलोमीटर तक ट्रैक्टरों की लाइन लगी हुई है। सिंघु बॉर्डर से बहालगढ़ के आगे तक जाम के हालात है। ऐसे में किसानों को दिल्ली पहुंचने में ही कई घंटे लगने की संभावना है।

ट्रैक्टर परेड मंगलवार सुबह 8.45 बजे ही शुरू हो गई थी। उसके बावजूद अभी तक हजारों वाहन हरियाणा क्षेत्र में ही जाम में ही फंसे हुए हैं। नेशनल हाईवे-44 पर सिंघु बॉर्डर से बहालगढ़ तक पानीपत-दिल्ली लेन पूरी तरह जाम हो गई है। 

हाईवे पर जाम लगने के बाद वाहनों को गांव राई के अंडरपास से निकालकर दिल्ली-पानीपत लेन से विपरीत दिशा से निकाला जा रहा है। वहां भी जाम के हालात बन गए हैं। युवा किसान स्वयं अगवानी कर जाम में फंसे किसानों को निकालने का प्रयास कर रहे हैं।

वहीं टीकरी बॉर्डर से सुबह साढ़े आठ बजे शुरू हुई किसानों की ट्रैक्टर परेड जोश और उत्साह के साथ जारी है। टीकरी बॉर्डर से 13 किलोमीटर पीछे केएमपी तक ट्रैक्टरों की लंबी लाइन लगी हुई है। टीकरी बॉर्डर से पहले ट्रैक्टरों की दो लाइन बना दी गई हैं। जिन्हें बॉर्डर से जाना है, उन्हें एक लाइन में आगे बढ़ाया जा रहा है।

एक लाइन के प्रवेश के समय दूसरी लाइन को रोक दिया जा रहा है। सुबह करीब साढ़े 11 बजे टीकरी बॉर्डर से 15 एंबुलेंस का काफिला दिल्ली के अंदर गया है ताकि किसी भी आपात स्थिति में हालात को संभाला जा सके। एंबुलेंस का प्रबंध किसान मोर्चा की तरफ से किया गया।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here