इथोपियाई एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त, सभी 157 लोगों की मौत

अदीस अबाबा से नैरोबी आ रहा इथोपियन एयरलाइंस का बोइंग 737 विमान रविवार को रास्ते में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस विमान में 149 सवारियां और चालक दल के आठ सदस्य मौजूद थे.

0
237

अदीस अबाबा (Addis Ababa) से नैरोबी (Nairobi) आ रहा इथोपियन एयरलाइंस (Ethiopian Airlines) का बोइंग 737 विमान रविवार को रास्ते में दुर्घटनाग्रस्त (Accident) हो गया. माना जा रहा है कि इस विमान में 149 सवारियां और चालक दल के आठ सदस्य मौजूद थे. इथोपिया के प्रधानमंत्री ने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदनाएं प्रकट की हैं. एयरलाइन ने एक बयान में कहा कि हम पुष्टि करते हैं कि अदीस अबाबा से नैरोबी जाने वाली उड़ान संख्या ईटी 302 आज दुर्घटना की शिकार हो गई. बताया जा रहा है कि विश्वास किया जा रहा है कि इसमें 149 यात्री और चालक दल के आठ सदस्य थे. एयर लाइन ने कहा कि राहत और बचाव अभियान चलाया जा रहा है और हम अभी किसी के जीवित होने या संभावित मौत की पुष्टि नहीं कर रहे है.

हालांकि सूत्रों के अनुसार इस हादसे में क्रू मेंबर समेत सभी की मौत हो गई है. जानकारी के अनुसार यह विमान स्थानीय समयानुसार तड़के आठ बजकर 38 मिनट पर बोले अंतरराष्ट्रीय हवाई अड़डे से रवाना हुआ और छह मिनट बाद ही इसका संपर्क टूट गया. प्रधानमंत्री आबी अहमद के कार्यालय ने ट्वीट करके कहा कि आज सुबह अपनी नियमित उड़ान पर इथोपियाई एयरलाइंस बोइंग 737 से कीनिया के नैरोबी जा रहे लोगों के परिजन को उनके प्रियजन को खोने के प्रति वह गहरी संवेदना प्रकट करते हैं. गौरतलब है कि इस तरह का ही एक मामला पिछले साल भी सामने आया था. जिसमें 51 लोगों की मौत हो गई थी. हादसे की जांच के बाद जारी हुई रिपोर्ट के मुताबिक उस प्‍लेन क्रैश के लिए और कोई नहीं बल्‍कि पायलट जिम्‍मेदार था.

रिपोर्ट में दावा किया गया था कि पायलट कॉकपिट में सिगरेट पी रहा था और उसी वजह से प्‍लेन क्रैश हो गया. नेपाल की राजधानी काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट (TIA) में पिछले साल 12 मार्च को यूएस-बांग्‍ला एयरलाइन बॉमबार्ड‍ियर (यूबीजी-211) लैंडिंग के ठीक बाद क्रैश हो गया था. अब अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की थी कि पाबंदी के बावजूद फ्लाइट का इंचार्ज पायलट कॉकपिट में सिगरेट पी रहा था और इसी वजह से प्‍लेन क्रैश हो गया था. आपको बता दें कि कंपनी की पॉलिसी के मुताबिक सभी घरेलू और अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानों के दौरान सिगरेट पीने पर पूरी तरह से पाबंदी है. जांच कमीशन को मिली जानकारी के मुताबिक पायलट सिगरेट पीने का आदी था.

जांच कमीशन सीवीआर यानी कि कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से मिली जानकारी के बाद इस नतीजे पर पहुंचा है कि फ्लाइट के दौरान पायलट ने कॉकपिट में सिगरेट पी थी. हालांकि ऑपरेशन डिपार्टमेंट और अन्‍य प्राधिकरण पायलट द्वारा इस तरह सुरक्षा नियमों से खिलवाड़ करने की बात पर पूरी तरह से आश्‍वस्‍त नहीं हैं. रिपोर्ट में साफ तौर पर कहा गया था कि फ्लाइट में सिर्फ तंबाकू का इस्‍तेमाल किया गया था. साथ ही रिपोर्ट यह भी कहा गया है कि फ्लाइट के दौरान किसी भी तरह के प्रतिबंधित नशे का इस्‍तेमाल नहीं किया गया था. आपको बता दें कि हादसे के बाद जांच के लिए कमीशन गठित किया गया था. 

जांच कमीशन ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि हादसा पूरी तरह से क्रू की लापरवाही से हुआ. इस रिपोर्ट में क्रू के सदस्‍यों के अलावा त्रिभुवन एयरपोर्ट के कंट्रोल टावर को भी जिम्‍मेदार ठहराया गया था. कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से मिले डेटा में खुलासा हुआ था कि लैंडिंग के दौरान टर्मिनल एरिया में क्रू और ट्रैफिक कंट्रोलर (VNKT Tower) के बीच बातचीत में कंफ्यूजन था. गौरतलब है कि प्‍लेन की लैंडिंग के दौरान कॉकपिट और केब्रिन क्रू के दो-दो सदस्‍यों समेत 67 यात्रियों में से 45 यात्री मारे गए थे. बाद में अस्‍पताल में इलाज के दौरान दो अन्‍य यात्रियों ने दम तोड़ दिया था. इस तरह कुल 51 लोगों ने लापरवाही की कीमत अपनी जान देकर चुकाई थी.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here