किसान आंदोलन : गाजीपुर बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस की सख्त घेराबंदी

यूपी गेट पर दिल्ली पुलिस ने गाजीपुर की तरफ बॉर्डर पर सख्त घेराबंदी कर दी है। कई लेयर बैरिकेडिंग और कंटीले तार लगाने के बाद अब मेरठ एक्सप्रेसवे की सर्विस रोड पर कीलें ठोक दी हैं।

0
774

यूपी गेट पर दिल्ली पुलिस ने गाजीपुर की तरफ बॉर्डर पर सख्त घेराबंदी कर दी है। कई लेयर बैरिकेडिंग और कंटीले तार लगाने के बाद अब मेरठ एक्सप्रेसवे की सर्विस रोड पर कीलें ठोक दी हैं। इससे दिल्ली-गाजियाबाद के बीच पैदल आवाजाही भी बंद हो गई है। रास्ता बंद होने से वाहन चालक भटक रहे हैं।

यूपी गेट बॉर्डर पर फिर से किसानों की संख्या में इजाफा हो रहा है। विभिन्न संगठनों के लोग आंदोलन को समर्थन देने पहुंच रहे हैं। किसानों की बढ़ती आवाजाही और 26 जनवरी की हिंसा के बाद दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा घेरा कड़ा कर दिया है। दो दिन से मेरठ एक्सप्रेस वे की दिल्ली वाली सभी लेन बंद हैं। इन दो दिन में कई लेयर बैरिकैड लगाए। उन सभी पर कंटीले तार लगा दिए हैं।

सोमवार को दिल्ली पुलिस ने गाजीपुर से डाबर तिराहे की तरफ आने वाली सड़क पर कीलें ठोक दी हैं। इससे पैदल आवाजाही भी बंद हो गई है। सभी रास्ते बंद होने से लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। कई वाहन चालक दिल्ली नहीं जा सके। कुछ वाहन चालकों ने बताया कि गाजियाबाद के ज्यादातर बॉर्डर बंद हैं। दिल्ली नहीं पहुंच रहे हैं।

जहां एक तरफ दिल्ली पुलिस सुरक्षा घेरा मजबूत कर रही है वहीं गाजियाबाद की तरफ पुलिस बल कम हो गया है। हालांकि सादे कपड़ों में पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़ा दी गई है। वह किसानों पर नजर रख रहे हैं।

दिल्ली पुलिस ने जिस तरह से सख्ती की है उससे किसान नेता नाराज हैं। किसानों ने मंच से कहा कि उनका धरना शांतिपूर्वक चलता रहेगा। आरोप लगाया कि धरनास्थल पर राशन की रसद और दूध नहीं पहुंच सके इसलिए कंटीले तार और कीलें लगाई हैं। पुलिस की सख्ती से दूध और राशन की गाड़ियां आ नहीं सकीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here