पांच साल में पहली बार पीएम मोदी ने की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कांफ्रेंस की। पांच साल में ये पहली बार है जब पीएम मोदी ने प्रेस कांफ्रेंस की है।

0
262

सातवें चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने प्रेस कांफ्रेंस की। पांच साल में ये पहली बार है जब पीएम मोदी ने प्रेस कांफ्रेंस की है। इस दौरान अमित शाह ने मोदी सरकार की उपलब्धियों को सामने रखा। पहले अमित शाह ने अपनी बात रखी और मोदी उनके साथ बैठे रहे। इसके बाद पीएम मोदी ने मीडिया से बात की।

एक सवाल के जवाब में अमित शाह ने कहा कि भाजपा अपने बूते पर बहुमत हासिल करेगी, 300 से ज्यादा सीटें लाएंगे। हमारे सहयोगी साथ रहेंगे, मोदी जी प्रधानमंत्री होंगे। सरकार एनडीए की ही होगी। अगर किसी को सम्मान के साथ हमारे साथ जुड़ने की इच्छा होगी तो हमारे दरवाजे खुले हैं।

साध्वी प्रज्ञा के नाथूराम गोडसे पर दिए बयान को लेकर अमित शाह ने कहा- पार्टी ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया है और 10 दिन के भीतर जवाब देने को कहा है। जब वह जवाब देंगी तो पार्टी की अनुशासन समिति इस पर उचित कार्रवाई करेगी।

उन्होंने कहा- प्रज्ञा ठाकुर की उम्मीदवारी फर्जी भगवा आतंक के खिलाफ सत्याग्रह है। मैं कांग्रेस से कहना चाहता कि समझौता एक्सप्रेस मामले में कुछ लोग गिरफ्तार हुए थे जो लश्कर ए तोएबा से जुड़े थे। इसमें भगवा आतंक का फर्जी केस बनाया गया था और आरोपी को छोड़ दिया गया है। भगवा टेरर काल्पनिक बातें हैं। कांग्रेस पार्टी ने हिंदू संस्कृति को बदनाम किया है।

प. बंगाल में हिंसा के सवाल पर शाह ने कहा- पिछले डेढ़ साल में 80 भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है। इस बारे में ममता बनर्जी को क्या कहना है। अगर हम इसके लिए जिम्मेदार हैं तो बाकी जगहों पर हिंसा क्यों नहीं हुई।

राफेल के सवाल पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि अगर राहुल गांधी के पास पुख्ता सबूत थे तो सुप्रीम कोर्ट में क्यों नहीं दिए। राहुल को सभी तथ्यों को सुप्रीम कोर्ट के समक्ष रखने चाहिए थे।
इस पर पीएम ही जवाब दें जरूरी नहीं है। कांग्रेस पर भी कई आरोप लगते हैं तो क्या उन्होंने जवाब दिया।

अमित शाह ने कहा कि देश के रक्षा मंत्री ने संसद के अंदर हर बात का जवाब दिया और राहुल गांधी सुनने के लिए भी नहीं बैठे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here