Weather update- उत्तर भारत में कोहरे का कहर, 2 जनवरी को दिल्ली में पड़ सकते हैं ओले।

पश्चिमी विक्षोभ और निचले स्तर पर तेज हवाओं के चलते मंगलवार शाम से दिल्ली-एनसीआर में हवा की गति में वृद्धि हो सकती है। (30th Dec 2019)

0
341

Delhi Weather- राजधानी दिल्‍ली समेत उत्‍तर भारत के अधिकांश इलाके सोमवार को घने कोहरे की चपेट में नजर आए। दिल्ली एयरपोर्ट (Delhi Airport) पर कम दृश्यता के कारण तीन फ्लाइटों को डाइवर्ट करना पड़ा जबकि दिल्‍ली से होकर आने जाने वाली नार्दर्न रेलवे (Northern Railways) रीजन की 30 ट्रेनें देर से चल रही हैं। हालांकि, उत्तराखंड दिन में चल रही बर्फीली हवाओं का असर कम होने से गिरते तापमान में मामूली सुधार हुआ है। हिमाचल प्रदेश में जल स्त्रोत जम गए हैं। जम्मू कश्मीर में चिल्ले कलां के बीच पारा लगातार गिर रहा है और डल झील समेत लगभग दूसरे जलस्त्रोत जम गए हैं।

राजधानी दिल्‍ली के पालम (Palam) में न्‍यूनतम तापमान 2.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि सफदरजंग इलाके (Safdarjung) में यह 2.6 डिग्री मापा गया। राजधानी के आया नगर (Aya Nagar) में पारा 2.5 डिग्री जबकि लोधी रोड (Lodhi Road) में 2.2 डिग्री पर पहुंचा।

अमृतसर (Amritsar) में पारा 2.8 पर जबकि राजस्‍थान के चुरू (Churu) में दो डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। उत्‍तर प्रदेश में सबसे कम तापमान आगरा (Agra) का 2.4 दर्ज किया गया। बिहार का गया जिला (Gaya) सबसे सर्द रहा जहां न्‍यूनतम तापमान 3.8 डिग्री दर्ज किया गया। मध्‍य प्रदेश में ग्‍वालियर (Gwalior) का इलाका काफी सर्द रहा। ग्‍वालियर में न्‍यूनतम तापमान 3.0 दर्ज किया गया।

Traffic jam on DND दिल्‍ली-एनसीआर में कोहरे का ऐसा कहर देखने को मिला कि डीएनडी फ्लाइवे पर लोगों को भारी जाम का सामना करना पड़ा। घने कोहरे के कारण ही दनकौर थाना क्षेत्र में बड़ा हादसा हो गया। दनकौर की खेरली नहर में रविवार देर रात को एक कार गिर गई जिससे छह लोगों की मौत हो गई जबकि पांच घायल हो गए। इस हादसे के पीछे कोहरे की वजह से कार चालक को नहीं दिखाई देना बताया गया है।

हवा की दिशा बदलने से दिल्‍ली में गिर रहा तापमान कुछ सुधरा है जबकि कश्मीर के विक्षोभ और उत्तर-पश्चिम हवाओं के चलते उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में कोहरे और शीतलहर का प्रकोप जारी है। जागरण न्‍यूज नेटवर्क के मुताबिक, दो दिनों में उत्‍तर प्रदेश में कड़के की सर्दी से 50 से ज्‍यादा लोगों की मौत हो गई है जबकि झारखंड में सात लोगों ने जान गंवाई है। बिहार में बीते तीन दिनों में ठंड की चपेट में आकर 36 से ज्‍यादा लोग मरे हैं। मध्‍य प्रदेश में ठंड से दो लोगों के मरने की सूचना है। राजस्‍थान के पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में पारा माइनस तीन डिग्री पर पहुंचा जबकि मध्य प्रदेश के अमरकंटक में यह शून्य पर दर्ज हुआ।

स्‍काईमेट वेदर (Skymet Weather) की मानें तो अगले 24 घंटों के दौरान जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तरी राजस्थान, उत्तर मध्य प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में मध्यम से घने कोहरे के साथ ठंड का प्रकोप जारी रहेगा। हालांकि 24 घंटे बाद अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है। मौसम विभाग की मानें तो पश्चिमी विक्षोभ और निचले स्तर पर तेज हवाओं के चलते मंगलवार शाम से दिल्ली-एनसीआर में हवा की गति में वृद्धि हो सकती है। 1 से 3 जनवरी तक रात के दौरान हल्की बारिश होने की संभावना है और 2 जनवरी को ओले भी पड़ सकते हैं।

स्‍काईमेट वेदर की रिपोर्ट के मुताबिक, दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश और इससे सटे भागों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। एक दूसरा चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पूर्वी उत्तर प्रदेश पर भी दिख रहा है। इससे मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, दक्षिणी आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल और तेलंगाना में एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है जबकि देश के बाकी हिस्सों में शुष्क मौसम रहेगा। अगले 24 घंटे तक राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली के लोगों को प्रदूषण से कोई राहत नहीं मिलने वाली है।

स्‍काईमेट वेदर की ओर से जारी ऑल इंडिया वेदर बुलेटिन में कहा गया है कि अगले 24 घंटों के दौरान जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तरी राजस्थान, उत्तर मध्य प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में मध्यम से घने कोहरे के साथ ही कड़ाके की सर्दी का सितम जारी रहेगा। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, बिहार, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और असम में मध्यम से घने कोहरे के कारण दृश्यता प्रभावित हुई है जिससे सभी तरह के यातायात पर असर पड़ा है। लद्दाख में न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु से कई डिग्री नीचे चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here