AMU के पूर्व कुलपति ने कहा हिंदुओं को वक्फ बोर्ड की 2.77 एकड़ जमीन गिफ्ट करें।

AMU के पूर्व कुलपति ने अयोध्या विवाद सुलझाने के लिए वक्फ बोर्ड की 2.77 एकड़ जमीन हिंदुओं को उपहार में देने की बात कही।

0
636

AMU के पूर्व कुलपति (Former VC) ले. जनरल (सेवानिवृत्त) जमीरउद्दीन शाह (Zameer Uddin Shah) हिंदू-मुस्लिम एकता के पक्षधर हैं। AMU में अपने कार्यकाल के दौरान उनके कुछ कार्यों एवं फैसलों पर कट्टरपंथी काफी नाराज हुए थे।

लखनऊ में आयोजित इंडियन मुस्लिम फॉर पीस (Indian Muslim For Peace) के बैनर तले आयोजित मुस्लिम बुद्धिजीवियों की बैठक में ले. जनरल सेवानिवृत्त जमीरउद्दीन शाह (Zameer Uddin Shah) ने अयोध्या विवाद सुलझाने के लिए वक्फ बोर्ड की 2.77 एकड़ जमीन हिंदुओं को उपहार में देने की बात कहकर एक बार फिर चर्चा में हैं।

AMU में भी इसकी खूब चर्चा है। हालांकि अभी कोई खुलकर बोल नहीं रहा है। एएमयू कुलपति रहते हुए वह कई बार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के इंद्रेश कुमार व दूसरे नेताओं से मिले थे।

ईद के अवसर पर RSS द्वारा आयोजित ईद मिलन समारोह में शामिल होते थे। AMU छात्रों तथा BJP एवं अन्य संगठनों से विवाद के दौरान उन्होंने एक बार वीसी लॉज में RSS से जुड़े लोगों को बातचीत के लिए बुलाया था।

यही नहीं अखिल भारत हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडेय एवं अशोक पांडेय से यूनिवर्सिटी के बाहर मिले थे, जिसको लेकर काफी हो-हंगामा हुआ था।

वह कहा करते थे कि सर सैयद हिंदू-मुस्लिम को सुंदर दुल्हन की दो आंखों की तरह मानते थे। वह बार-बार कहते थे कि एक अच्छा जनरल वह होता है जो बिना जंग किए जीतता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here