फ़िर सील हुआ दिल्ली ग़ाज़ियाबाद बॉर्डर, सिर्फ पास वालों को मिलेगी एंट्री।

दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर को फिर से सील कर दिया गया है। डीएम ने अपने आदेश में कहा है कि सिर्फ पास वालों को ही दिल्ली से गाजियाबाद में एंट्री दी जाएगी।

0
534

Coronavirus – दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच जिला प्रशासन ने बड़ा फैसला लिया है। दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर को फिर से सील कर दिया गया है। डीएम ने अपने आदेश में कहा है कि सिर्फ पास वालों को ही दिल्ली से गाजियाबाद में एंट्री दी जाएगी। बाकी किसी को भी दिल्ली से गाजियाबाद या गाजियाबाद से दिल्ली जाने की अनुमति नहीं होगी। जरूरी सेवाओं से संबंधित लोगों को आवाजाही में छूट दी गई है।

गाजियाबाद के डीएम अजय शंकर पांडे ने बताया कि आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग जैसे, डॉक्टर, पुलिसकर्मी, बैंककर्मी, और पैरामेडिकल स्टाफ आदि को पास की जरूरत नहीं होगी। इन्हें सिर्फ अपना परिचय पत्र साथ लेकर चलना होगा। वहीं माल ढुलाई और अन्य इसी तरह के काम से जुड़े लोगों के लिए पास जरूरी होगा। चेकपोस्ट पर पुलिस जांच करेगी और इसके बाद ही जाने की अनुमति मिलेगी। डीएम ने अपने आदेश में कहा है कि एम्बुलेंस बिना किसी रोकटोक के आ-जा सकेगी। वहीं भारत सरकार के काम करने वाले उप सचिव और उसके ऊपर के अधिकारियों को सिर्फ अपना परिचय पत्र दिखाना होगा। उन्हें पास की जरूरत नहीं होगी।

डीएम ने अपने आदेश में कहा है कि गाजियाबाद में बड़ी संख्या में सरकारी कर्मचारी रहते हैं जो दिल्ली सरकार, भारत सरकार और अन्य कार्यालयों में काम करते हैं। ऐसे सरकारी कर्मचारियों के लिए 33 प्रतिशत की सीमा निर्धारित की गई है लेकिन इसका पालन नहीं हो रहा है। ऐसे में कर्मचारियों के लिए कार्यालय अलग से पास जारी करे। डीएम ने कहा है कि ऐसे कर्मचारियों को सिर्फ परिचय पत्र के आधार पर आवाजाही की अनुमति नहीं होगी।

गाजियाबाद (Ghaziabad) में कोरोना वायरस के 230 से अधिक केस सामने आ चुके हैं। वहीं दिल्ली में 14 हजार से ज्यादा लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। गाजियाबाद जिला प्रशासन ने संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए यह फैसला लिया है। गाजियाबाद ने भले ही बॉर्डर सील करने का फैसला अभी लिया है लेकिन नोएडा ने दिल्ली से लगी सीमा को पहले से ही बंद रखा है। यहां भी सिर्फ पास वालों को जाने की अनुमति है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here