नहीं रहे गोवा के मुख्‍यमंत्री मनोहर पर्रिकर

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मनोहर पर्रिकर के निधन की पुष्टि की. राष्ट्रपति ने Tweet कर मनोहर पर्रिकर के निधन पर दुख जताया.

0
540

गोवा (Goa) के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) का 63 साल की उम्र में निधन हो गया है.

मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar Dies) अग्नाशय कैंसर से पीड़ित थे. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) के निधन की पुष्टि की. राष्ट्रपति ने Tweet कर मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar Dies) के निधन पर दुख जताया. इससे पहले गोवा के मुख्यमंत्री कार्यालय (Goa CMO) ने बयान जारी कर मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar Health Condition) के स्वास्थ्य की स्थिति बेहद खराब होने की जानकारी दी थी.

गोवा के मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से Tweet कर बताया गया था कि, ‘मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की हालत बेहद गंभीर है. डॉक्टर उन्हें ठीक करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं.’ बता दें कि मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) को पिछले दिनों अचानक उनके स्वास्थ्य में गिरावट देखने के बाद गोवा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था. बीते शनिवार को भी जानकारी मिली थी कि मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) की तबियत काफी बिगड़ गई है, लेकिन बीजेपी के तरफ से बयान आया कि उनके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है.

शनिवार को बीजेपी विधायक और गोवा विधानसभा के उपाध्यक्ष माइकल लोबो ने मीडिया को बताया था कि पिछली रात से मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) की तबियत काफी खराब है. डॉक्टर्स उनकी निगरानी कर रहे हैं और उनका कहना है कि उनकी सेहत में सुधार नहीं दिख रहा है. 3 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव नजदीक हैं और प्रत्याशियों का तयन होना अभी बाकी है.

पर्रिकर के परिवार में दो पुत्र और उनका परिवार है. राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री का निधन रविवार शाम छह बजकर चालीस मिनट पर हुआ. पिछले एक साल से बीमार चल रहे भाजपा के वरिष्ठ नेता का स्वास्थ्य दो दिन पहले बहुत बिगड़ गया था. सूत्रों ने बताया कि पूर्व रक्षा मंत्री पर्रिकर शनिवार देर रात से ही जीवनरक्षक प्रणाली पर थे. पर्रिकर फरवरी 2018 से ही बीमार चल रहे थे.

मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) मार्च 2017 में रक्षा मंत्री का पद छोड़कर चौथी बार गोवा के मुख्यमंत्री (Goa CM) बने थे. भारतीय राजनीति में मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) की पहचान ‘मिस्टर क्लीन’ के रूप में होती है. बेहद सरल और बिना तामझाम के जीवन जीने वाले मनोहर पर्रिकर हमेशा जनता से जुड़े रहने की कोशिश करते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी माने जाने वाले मनोहर पर्रिकर का जन्म 13 दिसंबर 1955 के मापुसा में हुआ था.

मनोहर पर्रिकर का पूरा नाम मनोहर गोपालकृष्णन प्रभु पर्रिकर (Manohar Gopalkrishna Prabhu Parrikar) है. आमतौर पर कहते हैं कि भारतीय राजनीति में पिछले कुछ वर्षों में कम पढ़े-लिखे लोग आ रहे हैं, लेकिन मनोहर पर्रिकर ने 1978 में IIT मुंबई से ग्रेजुएशन किया. मनोहर पर्रिकर भारत के किसी राज्य के मुख्यमंत्री बनने वाले वह पहले व्यक्ति हैं, जिन्होंने IIT ग्रेजुएशन किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here