बीजेपी का योगी आदित्यनाथ की रैली से पहले ममता को तंज ‘How is the ख़ौफ़’

योगी की बंगाल यात्रा से पहले भाजपा ने बॉलीवुड मूवी 'उरी' (URI) के मशहूर डायलॉग 'How's The Josh' को कॉपी करते हुए ट्वीट किया है,'How's the खौफ?'.

0
392

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को पिछले रविवार को बंगाल (Bengal) में हेलीकॉप्टर लैंड कराने की मंजूरी नहीं दी गई थी, ऐसे में उन्होंने मोबाइल फोन के जरिए रैली को संबोधित किया था. लेकिन मंगलवार को वह फिर रैली को संबोधित करने के लिए बंगाल जा रहे हैं, लेकिन इस बार उन्होंने सड़क के रास्ते बंगाल जाने का प्लान बनाया है. योगी की बंगाल यात्रा से पहले भाजपा ने बॉलीवुड मूवी ‘उरी’ (URI) के मशहूर डायलॉग ‘How’s The Josh’ को कॉपी करते हुए ट्वीट किया है,’How’s the खौफ?’.

रविवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बंगाल के बालुरघाट में ‘गणतंत्र बचाओ रैली’ को संबोधित करने वाले थे. लेकिन वह रैली करने के लिए वहां नहीं जाए, क्योंकि रैली स्थल के पास उनके हेलीकॉप्टर को लैंड करने की मंजूरी नहीं दी गई. इसलिए आदित्यनाथ को टेलीफोन के माध्यम से रायगंज और बालुरघाटी की रैलियों को संबोधित करना पड़ा था. उन्होंने राज्य की तृणमूल सरकार को जनविरोधी करार दिया था और कहा था कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के दिन गिनती के रह गये हैं. 

इसके साथ ही भाजपा ने बांकुरा (Bankura) में मंगलवार को निर्धारित उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जनसभा सोमवार को यह दावा करते हुए रद्द कर दी कि जिला प्रशासन उनके हेलीकॉप्टर को उतरने के लिए अनुमति देने में टाल-मटोल कर रहा है. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘हमने मंगलवार की योगी आदित्यनाथ की बांकुरा रैली रद्द करने का निर्णय लिया है क्योंकि जिला प्रशासन उनके हेलीकॉप्टर को उतरने की अनुमति देने में टाल-मटोल कर रहा है. हम कोई जोखिम नहीं लेना चाहते हैं, इसलिए हमने रद्द कर दिया है.’ घोष ने कहा कि लेकिन मंगलवार की आदित्यनाथ की पुरुलिया रैली फिलहाल निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही होगी. 

भाजपा ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर रविवार को यह कहते हुए प्रहार किया था कि राज्य में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्टर को उतरने की अनुमति नहीं देना ‘अलोकतांत्रिक और फासीवादी आचरण’ का स्पष्ट उदाहरण है. वरिष्ठ भाजपा नेता और केंद्रीय विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘यह बहुत ही अफसोसजनक और निंदनीय है तथा ममता जी एवं तृणमूल कांग्रेस के अलोकतांत्रिक रिकार्ड के अनुसार है. यह अलोकतांत्रिक और फासीवादी आचरण का स्पष्ट उदाहरण है. योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्टर को उतरने से रोकने का एकमात्र कारण (उनकी) घबराहट और भयबोध है क्योंकि बंगालियों के अंदर बदलाव की एक तड़प है.’

उन्होंने कहा, ‘हम चुनाव आयोग से इसका संज्ञान लेने की अपील करेंगे क्योंकि देश के सबसे राज्य (जनसंख्या की लिहाज से) के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ को (पश्चिम बंगाल में) को जनसभाएं नहीं करने दिया गया है.’ प्रसाद ने यह भी कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को भी पश्चिम बंगाल में रैली नहीं करने दिया गया और प्रधानमंत्री की रैली में बाधा पहुंचाने की कोशिश की गयी. भाजपा सूत्रों ने बताया कि पार्टी अपने लोकतांत्रिक अधिकारों पर पश्चिम बंगाल सरकार के हमले को एक बड़ा मुद्दा बनाएगी और विभिन्न संस्थानों से संपर्क करेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here