Coronavirus: देशभर में सभी परीक्षाएं रद्द, कई शहरों में धारा 144

केंद्र सरकार ने देशभर में सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। इनमें CBSE-JEE Mains समेत विद्यालय व विश्वविद्यालय स्तरीय और प्रतियोगी परीक्षाएं शामिल हैं।

0
372

Coronavirus: कोरोना से निपटने की कोशिशों के चलते केंद्र सरकार ने देशभर में सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। इनमें CBSE-JEE Mains समेत विद्यालय व विश्वविद्यालय स्तरीय और प्रतियोगी परीक्षाएं शामिल हैं।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय (HRD Ministry) ने 31 मार्च के बाद की नई तारीखें तय करने को कहा है। हालांकि ICSE परीक्षाएं तय शिड्यूल पर होंगी।

वहीं, गौतमबुद्ध नगर समेत देश के कई शहरों में लोगों को इकट्ठा होने से रोकने के लिए धारा 144 लागू की गई है। महाराष्ट्र में दुकानों का सम-विषम लागू किया है, जहां एक दिन सम अंक की व दूसरे दिन विषम अंक वाली दुकानें खुलेंगी। हिमाचल में पर्यटकों का प्रवेश बंद किया जा रहा है। कर्नाटक ने 10 दिन और आंशिक बंदी की घोषणा की है। 12 नए संक्रमितों के साथ देश में 151 मरीज हो गए हैं।

लखनऊ में संक्रमित का इलाज करने वाले जूनियर डॉक्टर में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है। इंडोनेशिया से लौटे कर्मचारी को तेज बुखार पर इलाहाबाद हाईकोर्ट व लखनऊ पीठ को तीन दिन के लिए बंद कर दिया गया। इंडोनेशिया से लौटा एक व्यक्ति नोएडा में भी पॉजिटिव मिला है। दिल्ली, कर्नाटक, महाराष्ट्र, हरियाणा, लद्दाख में दो-दो और तेलंगाना व नोएडा में एक-एक नया मरीज मिला है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बुधवार को समीक्षा बैठक के बाद देशभर के क्वारंटाइन सेंटरों के नियमित परीक्षण और निगरानी के लिए टीमें गठित करने का निर्देश दिया। अस्पतालों में स्वास्थ्यकर्मियों के लिए सुरक्षात्मक कपड़े, दवाइयां व जांच किट उपलब्ध कराने को कहा है। संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आने वाले 5700 लोगों की निगरानी की जा रही है।

विदेश मंत्रालय ने 276 भारतीयों के विदेश में पॉजिटिव होने की पुष्टि की है। विदेश राज्यमंत्री मुरलीधरन ने लोकसभा में बताया, इनमें सबसे ज्यादा 255 ईरान में हैं। UAE में 12 और इटली में छह पॉजिटिव हैं। इसके अलावा हांगकांग, कुवैत, रवांडा और श्रीलंका में एक-एक भारतीय संक्रमित है। इस बीच, ईरान से 195 और मलयेशिया से 405 भारतीयों को वापस लाया गया। विस्तारा एयरलाइन ने 31 तक सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें निलंबित कर दी हैं।

कोरोना के गढ़ रहे चीन के वुहान में नए मामलों में तेजी से कमी आई है। दो दिन में महज दो नए मामले वहां दर्ज किए गए।

कोरोना संक्रमण (Coronavirus) से चिंतित सुप्रीम कोर्ट ने भी बुधवार को एहतियात की नसीहत देते हुए कहा, ऐसी महामारी सौ साल में एक बार होती है। घोर कलियुग में हम वायरस से लड़ नहीं सकते। इंसान की कमजोरी देखिए, आप हर तरह हथियार ईजाद कर सकते हैं लेकिन आप ऐसे वायरस से लड़ नहीं सकते। इससे हमें अपने स्तर पर लड़ना होगा। सिर्फ सरकारी स्तर पर जारी लड़ाई पर्याप्त नहीं है। एक मामले की सुनवाई के दौरान जस्टिस अरुण मिश्रा ने यह टिप्पणी की।

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने रोश डायग्नोस्टिक्स नाम की निजी कंपनी को कोरोना वायरस (Coronavirus) की जांच करने की अनुमति दी है। उसे मंगलवार को कोरोना डायग्नोस्टिक टेस्ट का लाइसेंस मिला। इस बीच, एक अन्य कंपनी ने भी डीसीजीआई से लाइसेंस के लिए संपर्क किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here