हम हैं बिहार के दूसरे लालू – तेज प्रताप यादव

तेज प्रताप ने कहा कि अब बिहार का विकास पूरी तरह से ठप हो गया है। हमारे पिता बिना किसी से समझौता किए लड़ाई लड़ते रहे उसी का परिणाम है कि उन्हें झूठे मुकदमे में जेल भेजा गया है।

0
135

लोकसभा चुनाव को लेकर लालू यादव (Lalu Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव पूरे दमखम के साथ चुनावी मैदान में उतरे हुए हैं। जहानाबाद के मखदुमपुर हाई स्कूल के मैदान में गुरुवार को लालू-राबड़ी मोर्चा के प्रत्याशी चंद्र प्रकाश के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने कहा कि आप ही लोगों की मांग पर मैंने इन्हें उम्मीदवार बनाया है। आप लोग इन्हें जीताएं। वे जहानाबाद (Jahanabad) में लगातार सभा कर अपने प्रत्याशी चंद्र प्रकाश यादव के लिए प्रचार-प्रसार में जुटे हैं।

सभा को संबोधित करते हुए तेज प्रताप (Tej Pratap Yadav) ने कहा कि वे बिहार (Bihar) के दूसरे लालू यादव (Lalu Yadav) है। तेज प्रताप ने कहा कि उन्होंने एक युवा और शिक्षित प्रत्याशी को चुनाव में खड़ा किया है, जो जहानाबाद का विकास करेगा। वहीं, उन्होंने राजद के प्रत्याशी सुरेंद्र यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि सुरेंद्र यादव तिलकुट चुराते हैं, वह जहानाबाद का विकास क्या करेंगे?

तेज प्रताप (Tej Pratap Yadav) ने कहा कि लंबे समय से यहां के लोग स्थानीय प्रत्याशी की मांग कर रहे थे। यहां के लोगों की मांग पर ही मैंने इन्हें प्रत्याशी बनाया है। उन्होंने कहा कि चंद्र प्रकाश युवा हैं। वे विकास का काम करेंगे।

तेज प्रताप (Tej Pratap Yadav) का कहना था कि यहां वैसे व्यक्ति को राजद का प्रत्याशी बनाया गया है जो लगातार चुनाव हारते रहे हैं। उन्होंने एनडीए पर हमला बोलते हुए कहा कि लगातार समाज में नफरत पैदा करने की कोशिश की जा रही है। सामाजिक समरसता को बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है। जब हम दोनों भाई राज्य सरकार मे मंत्री थे। बिहार में तेजी से विकास हो रहा था।

तेज प्रताप (Tej Pratap Yadav) ने कहा कि अब बिहार का विकास पूरी तरह से ठप हो गया है। तेज प्रताप ने कहा कि लालू प्रसाद (Lalu Yadav) के आदर्शों पर चलते हुए उनके विचारों को जन-जन तक पहुंचाने का मेरा प्रयास जारी रहेगा। गरीबों को सहारा देने के लिए हमारे पिता बिना किसी से समझौता किए लड़ाई लड़ते रहे उसी का परिणाम है कि उन्हें झूठे मुकदमे में जेल भेजा गया है।

चुनावी सभा को संबोधित करते हुए तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने कहा कि वो लालू के खून हैं। लालू जी के नहीं रहने से महागठबंधन उतना मजबूत नहीं है। बिना नाम लिए अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव पर तंज कसते हुए तेज प्रताप ने कहा कि लालू जी (Lalu Yadav) तो एक दिन में 10 से 12 सभाएं करते थे लेकिन बहुत से लोग दो चार सभा करके ही लरूआ जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here