मेरे विभाग को क्यों निशाना बनाया गया? मुझे हल्के में नहीं लिया जा सकता – नवजोत सिद्धू

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, 'मैं पूरा सच बोल रहा हूं, सीएम (Amarinder Singh) आधा सच बोल रहे हैं. मेरा प्रदर्शन हमेशा से अच्छा है.

0
289

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू गुरुवार को हुई पंजाब कैबिनेट की मीटिंग में शामिल नहीं हुए. मीटिंग में शामिल ना होने की वजह पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) और नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के बीच के मतभेद हैं. यह दूसरी बार है जब सिद्धू, सीएम द्वारा बुलाई गई मीटिंग से गायब रहे.

नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने पंजाब कैबिनेट की मीटिंग में ना पहुंचने पर सफाई दी. उन्होंने कहा, ‘मैं पूरा सच बोल रहा हूं, सीएम (Amarinder Singh) आधा सच बोल रहे हैं. मेरा प्रदर्शन हमेशा से अच्छा है. हर प्रोफेशन में मैंने अच्छा काम किया. मेरे विभाग को क्यों निशाना बनाया गया? मुझे हल्के में नहीं लिया जा सकता. मैं जो बात कर रहा हूं वो एक दम ठीक कर रहा हूं. कांग्रेस की जीत में मेरे पोर्टफोलियो ने अहम भूमिका अदा की है.’

पिछले महीने भी सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) उस मीटिंग में शामिल नहीं हुए थे जिसमें सभी विधायक, कैबिनेट मंत्री और नवनिर्वाचित सांसद थे. यह मीटिंग भी सीएम अमरिंदर सिंह ने बुलाई थी. पंजाब में कैबिनेट के दोबारा गठन होने की संभावना है और सीएम अमरिंदर ने यह संकेत दिए हैं कि सिद्धू अपना वर्तमान पोर्टफोलियो खो सकते हैं.

बता दें कि लोकसभा चुनाव में हार के बाद जब कांग्रेस के अंदर उथल-पुथल और मंथन का दौर जारी था तब भी सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने शायराना अंदाज में अपनी प्रतिक्रिया दी थी. सिद्धू ने ट्वीट कर कहा था, ‘गिरते हैं शहसवार ही मैदान-ए-जंग में, वो तिफ़्ल क्या गिरे, जो घुटनों के बल चले’. आपको बता दें कि पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के बीच भी टकराव जारी है. कैप्टन ने जहां सिद्धू से उनका विभाग छीनने का ऐलान कर दिया था, वहीं सिद्धू ने अपने कामकाज को लेकर सफाई दी थी और साथ में कैप्टन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि उनको पार्टी (Congress) के लोगों से गालियां दिलाई जा रही हैं लेकिन वे इस पर भी चुप हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here