भारत ने विंडीज को हराकर 2-0 से सीरीज जीती, विराट कोहली ने जड़ा 43वां वन-डे शतक।

विराट कोहली (114*) और श्रेयस अय्यर (65) की शानदार बल्लेबाजी के दम पर भारत ने बुधवार को वर्षा बाधित मैच में वेस्टइंडीज को डकवर्थ लुइस नियम के तहत छह विकेट से हरा दिया।

0
633

विराट कोहली (114*) और श्रेयस अय्यर (65) की शानदार बल्लेबाजी के दम पर भारत ने बुधवार को वर्षा बाधित मैच में वेस्टइंडीज को डकवर्थ लुइस नियम के तहत छह विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही भारत ने तीन मैचों की वन-डे पर 2-0 से कब्जा कर लिया।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए वेस्टइंडीज (West Indies) ने वर्षावाधित मैच में निर्धारित 35 ओवर में सात विकेट के नुकसान पर 240 रन बनाए और डकवर्थ लुईस नियम के तहत टीम इंडिया को जीत के लिए 35 ओवर में 255 रन का लक्ष्य मिला। लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने यह लक्ष्य 15 गेंदें शेष रहते ही हासिल कर लिया।

टीम इंडिया की तरफ से विराट कोहली (Virat Kohli) ने 99 गेंदों में 14 चौके की मदद से 114 रन की नाबाद पारी खेली। मौजूदा सीरीज में कोहली का यह दूसरा शतक है। पहले मैच में उन्होंने 120 रन की की शतकीय पारी खेली थी। इसके लिए विराट कोहली को मैन ऑफ द मैच चुना गया। वहीं, सीरीज में सबसे अधिक रन बनाने के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द सीरीज के अवार्ड से नवाजा गया। 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही, क्योंकि सलामी बल्लेबाज हिटमैन रोहित शर्मा (10) के रूप में टीम को पहला झटका लगा। वह रनआउट हो गए। पहले विकेट के लिए रोहित और धवन के बीच 25 रन की साझेदारी हुई। इसके बाद 13वें ओवर में टीम इंडिया के दो विकेट गिरे। ओवर की दूसरी गेंद पर फेबियन एलन ने सलामी बल्लेबाद शिखर धवन (36) को तो चौथी गेंद पर बल्लेबाजी करने आए ऋषभ पंत (0) को अपना शिकार बनाया।

श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyyer) ने 41 गेंदों में तीन चौके और पांच छक्कों की मदद से 65 रन की अर्धशतकीय पारी खेली। चौथे विकेट के लिए विराट और अय्यर के बीच 120 रन की साझेदारी हुई।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी गेल और एविन लुईस की ओपनिंग जोड़ी ने विंडीज टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों के बीच 115 रन की साझेदारी हुई। लुईस को 43 रन के निजी स्कोर पर युजवेंद्र चहल ने 10वें ओवर की आखिरी गेंद पर शिखर धवन के हाथों कैच कराकर वापस पवेलियन भेजा। वहीं 11वें ओवर की चौथी गेंद पर खलील अहमद ने आक्रमक अंदाज में खेल रहे क्रिस गेल को मिडऑफ पर विराट कोहली के हाथों कैच कराकर भारत को दूसरी सफलता दिलाई। गेल ने 41 गेंदों में 72 रन बनाए।

22वें ओवर में जब वेस्टइंडीज का स्कोर 158/2 था, तभी फिर बारिश शुरू हो गई, जिसके बाद काफी देर तक मैच रूका रहा। उस समय शाई होप 40 गेंद पर 19 और शिमरोन हेटमेयर 23 गेंद पर 18 रन बनाकर नॉटआउट थे। ज्यादा देर तक बारिश होने के चलते अंपायर ने ओवरों में कटौती की और 35-35 ओवर का मैच कराने का निर्णय लिया।हालांकि, इससे पहले भी बारिश ने 1.3 ओवर में मैच में खलल डाला था। सभी खिलाड़ियों को मैदान से वापस लौटना पड़ा था। उस समय क्रिस गेल 9 गेंद पर छह रन और एविन लुइस बिना खाता खोले नॉटआउट पवेलियन लौटे थे और उस वक्त वेस्टइंडीज का स्कोर 8/0 था। 

बारिश थमने के बाद विंडीज टीम ने 22 ओवर में 158 रन के बाद खेलना शुरू किया। 24.5 ओवर में कैरेबियाई टीम को शिमरोन हेटमायर (25) के रूप में तीसरा झटका लगा। शमी ने उन्हें बोल्ड कर दिया। तीसरे विकेट के लिए होप और हेटमायर के बीच 50 रन की साझेदारी हुई।

इसके कुछ ही देर बाद शाई होप (24) चलते बने। जडेजा ने उन्हें अपना शिकार बनाया। होप के आउट होने के बाद कप्तान होल्डर ने निकोलस पूरन के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया ही था कि शमी ने उन्हें स्थानापन्न खिलाड़ी मनीष पांडे के हाथों कैच आउट कराकर विंडीज को पांचवां  झटका दिया। पूरन 16 गेदों में तीन छक्के और एक चौके की मदद से 30 रन बनाए। चौथे विकेट के लिए होल्डर और पूरन के बीच 40 रन की साझेदारी हुई।

इसके बाद विंडीज को कार्लोस ब्रैथवेट के रूप में छठा विकेट गिरा। भारत की तरफ से खलील अहमद ने तीन, मोहम्म्द शमी ने दो और युजवेंद्र चहल और रविंद्र जडेजा ने एक-एक विकेट चटकाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here