समुद्र में आमने सामने हुए भारत-चीन के युद्धपोत, ऐसे किया भारत ने चीनी नौसेना स्वागत

0
196
INDIAN NOSEAN

भारतीय नौसेना चौकसी दल नेगश्त के दौरान नौसेना की नज़र चीन के दो युद्धपोत और एक टेंकर पर पड़ी जो अदन के खिलाफ समुद्री लुटेरों की खोज मिशन पर जा रहे थे। वहीं जब इस विषय पर नौसेना प्रवक्ता डी.के शर्मा से जब मीडिया ने बात की तो उन्होंने बताया कि भारतीय नौसेना से समुद्र में अपने 50 युद्धपोत तेनाद कर रखे हैं। यह सभी पोत समुद्र के अलग अलग हिस्सों में तेनाद हैं इनमे से मलक्का जलडमरू मध्य, बंगाल की खाड़ी से दक्षिणी हिन्द महासागर और अफ्रीका के पूर्वी तट पर यह सभी पोत चौकसी कर रहे हैं। इन सभी युद्धपोत को पिछले जून में ही तेनाद किया गया था।

भारतीय नौसेना का मानना है की समुद्री सीमा पर भारत हमेशा से ही शांति और स्थिरता बनाए रखना चाहता है। वहीं नौसेना ने अपने ट्वीट में बताया कि भारत काफी समय से ही समुद्री लुटेरों से निपटने के लिए अभियान चला रहा है जिसमे अब चीनी सेना भी जुड़ चुकी है हम उनका स्वागत करते हैं। शर्मा ने कहा हम समुद्री कानूनों का पालन करते हैं और उसकी दी हुई आज़ादी का सम्मान करते हैं।

वहीं अगर बात चीन नौसेना की करें तो चीन के युद्धपोत तट रक्षा और समुद्री लुटेरों की चौकसी के लिए जिबूती और पाकिस्तान के गदावर आते जाते रहते हैं। इससे पहले युद्धपोत श्रीलंका भी जाते थे लेकिन अब उनका श्रीलंका दौरा नहीं लगता बता दें इसी गश्त के दौरान साल 2011 में भी चीनी और भारतीय नौसेना का आमना सामना हुआ था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here