चीन को भारत की और से करारा झटका, जानिए क्यों नहीं किए विदेश मंत्री ने हस्ताक्षर

0
222
CHINA

हाल ही में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के चीन दौरे के बाद चीन वन बेल्ट वन रोड इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट के लिए चीन भारत का समर्थन लेने में नाकाम रहा है। इस दौरान एससीओ में विदेश मंत्री ने साफ कर दिया है कि भारत इस प्रोजेक्ट का हिस्सा नहीं बनेगा। इस योजना पर भारत का रुख इसलिए अहम है क्योंकि भारत चीन में आपसी मतभेद काफी चिंता का विषय बना हुआ है और चीन बॉर्डर पर सड़क निर्माण करना चाहता है जिसका भारत शुरू से ही विरोध करता आया है। हलांकि इसी हफ्ते पीएम मोदी भी चीन की यात्रा करने वाले है।

बता दें यह योजना चीन के राष्ट्रपति शी जिंगपिंग के लिए काफी अहम है और वह इस प्रोजेक्ट को आगे अन्य देशों के साथ भी चाहता है और इस प्रोजेक्ट के जरिए एक बार फिर चीन पुराने सिल्क रूट पर अपना नेटवर्क खड़ा करना चाहता है। इस प्रोजेक्ट के एक खास और अहम हिस्से के लिए चीन को भारत की मौजूदगी की आवश्कता है। लेकिन भारत ने चीन को झटका देते हुए इस पर दस्तखत नहीं किए दरसल इस प्रोजेक्ट के जरिए चीन और पाकिस्तान के लिए 57 अरब डॉलर की लागत से आर्थिक गलियारा बनाया जाएगा। लेकिन यह गलियारा पाक के कब्ज़े वाले कश्मीर से गुजरता है जो दरसल भारत का है।

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here