Coronavirus: भारत में स्वस्थ मरीजों की दर 78% पहुंची, स्वस्थ हो चुके लोगों के मामले में भारत पहले पायदान पर पहुंचा।

जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी (John Hopkins University) के आंकड़ों के अनुसार, भारत में 37 लाख 80 हजार से ज्यादा लोग महामारी से उबर चुके हैं।

0
171

दुनिया में कोरोना (Coronavirus) से स्वस्थ हो चुके लोगों के मामले में सोमवार को भारत पहले पायदान पर पहुंच गया। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी (John Hopkins University) के आंकड़ों के अनुसार, भारत में 37 लाख 80 हजार से ज्यादा लोग महामारी से उबर चुके हैं। भारत ने इस मामले में ब्राजील (Brazil) को पीछे छोड़ा है। दुनिया में महामारी से स्वस्थ हो चुके मरीजों की तादाद 1.9 करोड़ के करीब है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) ने कहा कि भारत में स्वस्थ मरीजों की दर (रिकवरी रेट) भी 78 फीसदी पर पहुंच गया है।

भारत में सोमवार को 92,701 मरीजों के मिलने के साथ कुल मामले 48 लाख 46 हजार 427 तक पहुंच गए। इनमें से सक्रिय मरीज नौ लाख 86 हजार 598 हैं। देश में 1136 मौतों के साथ कोरोना से जान गंवाने वालों की तादाद 79,722 पहुंच गई है।

देश में स्वस्थ मरीजों के मामले में पांच शीर्ष राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र में कोविड के सर्वाधिक मामलों के साथ सबसे ज्यादा स्वस्थ व्यक्ति भी हैं, लेकिन 69.79 फीसदी के साथ वह रिकवरी रेट में इनमें सबसे पीछे है। महाराष्ट्र में 10,60,308 मरीज हैं, जिसमें 7,40,061 स्वस्थ हो चुके हैं। यूपी में रिकवरी रेट 76.74%, आंध्र प्रदेश में 82.36%, तमिलनाडु में 88.98%, कर्नाटक में 76.82% है।

WHO के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 3,07,930 मरीज मिले हैं, जो अब तक किसी भी दिन मिले मरीजों की सबसे ज्यादा संख्या है। इसमें 60 फीसदी केस तीन देश अमेरिका, ब्राजील और भारत में मिले हैं।विश्व में मौतों की संख्या 9,17,417 तक पहुंच गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सोमवार को लोकसभा में कहा, ‘Lockdown के कारण 37 से लेकर 78 हजार लोगों की जानें बचाई जा सकीं। चार महीने तक चली देशव्यापी बंदी ने 14-29 लाख कोरोना मामलों को भी रोका। मार्च के मुकाबले, आइसोलेशन बेड में 36.3 गुना और ICU beds में 24.6 गुना वृद्धि हुई। छह माह पहले देश में कोई भी PPE Kit नहीं बनाई जाती थीं, लेकिन अब हम इसका निर्यात करने की स्थिति में हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here